Kuldeep Yadav Man Of the match today After Statement on Yuzi
Kuldeep Yadav Man Of the match today After Statement on Yuzi

आईपीएल 2022 के 41वें मैच मिली जीत के बाद कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. इस जीत के असल हीरो के तौर पर उन्होंने खास भूमिका निभाई. टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स का फैसला सही साबित हुआ. बोर्ड पर पहले स्कोर लगाने उतरी कोलकाता नाइट राउडर्स की शुरूआत बेहद खराब रही. कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) की फिरकी के सामने तो बड़े से बड़े खिलाड़ी भी फेल हो गए. उन्होंने इस मुकाबले में 4 विकेट ली. इसलिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया.

मुझे अब असफल होने का कोई डर नहीं है- Kuldeep Yadav

 Kuldeep Yadav Man Of the match

अपनी पुरानी फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ गेंदबाजी करने उतरे कुलदीप यादव ने विरोधियों की कमर तोड़ दी उन्होंने 4 ओवर की स्पेल में सिर्फ 14 रन देकर 4 विकेट लिए और बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया. इल लाजवाब प्रदर्शन के बाद उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच से अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिलने के बाद पोस्ट मैच प्रजेंटेशन पर बातचीत करते हुए कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा,

“शायद से मैं एक बेहतर और मानसिक तौर पर मज़बूत गेंदबाज़ बन गया हूं. आप चीज़ों से डरते नहीं हो क्योंकि आपने उनका सामना कर लिया है. मुझे अब असफल होने का कोई डर नहीं है. रसेल की विकेट मुझे अच्छी लगी क्योंकि मैंने कोण में बदलाव करते हुए उन्हें अपने जाल में फंसाया. दो डॉट गेंदों के बाद मुझे लगा था कि वह बड़े शॉट के लिए कदमों का इस्तेमाल करेंगे. यह मेरे लिए आईपीएल करियर का सबसे अच्छा सीज़न है.”

युजवेंद्र चहल की तारीफ में कुलदीप यादव ने पढ़े कसीदे

 Kuldeep Yadav on Yuzvendra Chahal

इस सिलसिले में आगे बात करते हुए कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने कहा,

“मैं अपनी कला पर विश्वास कर रहा हूं और अपने खेल का आनंद ले रहा हूं. मुझे लगा था कि श्रेयस के बल्ले पर वह गेंद लगी थी. लेकिन, पंत ने कैच नहीं लपका. लेकिन उन्होंने जब अपील की तब मुझे समझ आया कि कैच लपका गया. वह विकेट का श्रेय ऋषभ को जाना चाहिए. मेरे और चहल के बीच में कोई प्रतियोगिता नहीं है.

उसने मुझे बहुत प्रोत्साहन दिया है. वह मेरे बड़े भाई जैसा है और जब मैं चोटिल भी था तब भी उसने मेरा साथ दिया. मैं दिल से चाहता हूं कि वह (चहल) पर्पल कैप जीते क्योंकि पिछले चार सालों में उसने बढ़िया गेंदबाज़ी की हैं.”