Kuldeep Yadav

भारतीय क्रिकेट टीम के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) इस वक्त अपने करियर के बुरे वक्त से गुजर रहे हैं। उन्हें इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में नहीं चुना गया और वह फिलहाल भारत में ही हैं। अब वह जुलाई में होने वाले श्रीलंका दौरे के लिए टीम इंडिया में अपने चयन की उम्मीद कर रहे हैं। हालांकि टीम से ड्रॉप किए जाने से वह निराश हैं, क्योंकि वह टीम की जीत में योगदान देना चाहते थे।

श्रीलंका दौरे पर जाने की है उम्मीद

kuldeep yadav

कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) पिछले 2 सालों से टीम इंडिया का हिस्सा तो हैं, लेकिन उन्हें ठीक तरह से खेलने का मौका नहीं मिल पा रहा है और आखिरकार उन्हें अब टीम से बाहर भी कर दिया गया है। वह इंग्लैंड दौरे पर ना चुने जाने से निराश जरुर हैं, मगर अब वह श्रीलंका दौरे में अपने चयन को लेकर आशान्वित हैं। कुलदीप ने कहा,

‘मैं दुखी हूं कि टीम में मेरा चयन नहीं हुआ क्योंकि मैं टीम की जीत में योगदान देना चाहता था। ऐसा होता है और आप दुखी भी होते हैं लेकिन इसी वक्त आपको अगले अवसर के लिए तैयार रहना होता है। मैं इंग्लैंड नहीं जा पाया, लेकिन मुझे श्रीलंका दौरे पर जाने की उम्मीद है। क्रिकेट होते रहना चाहिए। जिस खिलाड़ी को टीम में जगह नहीं मिलती है वो दुखी होता है। सभी लोग टीम में रहना चाहते हैं लेकिन कई बार स्थिति ऐसी हो जाती है कि आपको टीम से बाहर रहना पड़ता है।’

Kuldeep Yadav ने बताया कौन जीतेगा

kuldeep yadav

भारत को 18 जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेलना है। इसके बाद उसे चार अगस्त से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। ऐसे में लगातार क्रिकेट के गलियारों में इसकी ही चर्चा हो रही है। एक ओर WTC में इतिहास रचने का मौका है, तो वहीं इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में हराने का भी बेहतरीन मौका है, क्योंकि भारतीय टीम को इंग्लिश कंडीशंस में ढ़लने का मौका मिलेगा। वहीं कुलदीप को लगता है कि भारत ने पिछले 2-3 सालों में जिस तरह का क्रिकेट खेला है, उसे देखकर लगता है कि वह विजेता होगी। उन्होंने कहा,

‘पिछले तीन-चार साल में हमने जिस तरह का क्रिकेट खेला है उससे टीम में सकारात्मक माहौल बना। विदेशी दौरों पर भी हमें घर जैसा लगता है। जिस तरह टीम ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ प्रदर्शन किया है, मुझे लगता है कि हम जीतेंगे।’