Krunal-Pandya-MoTM-PBKS-vs-LSG

Krunal Pandya: आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स और लखनऊ सुपर जायंट्स के बीच लीग स्टेज का 42वां मुकाबला पुणे के एमसीए स्टेडियम में खेला गया. जिसमें लखनऊ ने 20 रन से पंजाब किंग्स को मात दी. वहीं लखनऊ के लिए इस मैच के हीरो रहे स्टार ऑलराउंडर क्रुणाल पंड्या. जिन्होंने शानदार गेंदबाज़ी कर पूरे मैच का रुख पलट दिया. मैच के बाद उन्हें (Krunal Pandya) प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से भी नवाज़ा गया. जिसके बाद उन्होंने खुलासा किया कि किसकी वजह से उनकी गेंदबाज़ी में सुधार आया है.

Krunal Pandya ने दिया राहुल सांघवी को क्रेडिट

Krunal Pandya

आपको बता दें कि पंजाब किंग्स के खिलाफ क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) ने जबरदस्त गेंदबाजी का प्रदर्शन किया. उन्होंने अपने 4 ओवर के स्पेल में महज 2.75 की ज़बरदस्त इकॉनमी से गेंदबाजी करते हुए 11 रन देकर 2 विकेट अपने नाम किए हैं. साथ ही इन्होंने इस मैच के दौरान एक मेडिन ओवर भी डाला. कहीं ना कहीं ऐसा कहा जा सकता है कि क्रुणाल पंड्या के इस शानदार स्पेल की वजह से ही मैच का पूरा मोमेंटम लखनऊ की तरफ शिफ्ट हुआ था. ऐसे में क्रुणाल को मैच के बाद प्लेयर ऑफ़ द मैच के ख़िताब से भी नवाज़ा गया. जिसके बाद उन्होंने अपनी शानदार गेंदबाज़ी का श्रेय पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल सांघवी को दिया. क्रुणाल ने पोस्ट मैच इंटरव्यू में कहा,

“मैं अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं और पिछले 7-8 महीनों से कड़ी मेहनत कर रहा हूं. राहुल सांघवी ने इसमें मेरी बहुत मदद की है, जिसका परिणाम हर कोई देख सकता है. मैंने कौशल में सुधार करने की कोशिश की है. कई बार जब आप छोटे फॉर्मेट में खेल रहे होते हैं तो आपको बहुत सी चीजों का एहसास नहीं होता है. मैं अब और खुलकर खेलने की कोशिश करूंगा। मैंने राहुल सांघवी की मदद ली और यह काम कर गया.”

बल्लेबाज़ी को बताया दिल के करीब

Krunal Pandya

क्रुणाल पंड्या ने पंजाब किंग्स के खिलाफ प्लेयर ऑफ़ द मैच का खिताब जीतने के बाद इस बात का भी ज़िक्र किया है कि बल्लेबाज़ी उन्हें ज़्यादा पसंद है. ग़ौरतलब है कि आईपीएल 2022 में क्रुणाल पंड्या बल्ले से कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं. ऐसे में उन्होंने यह भी कहा है कि वह आने वाले मुकाबलों में बल्ले से भी योगदान देना चाहेंगे. क्रुणाल (Krunal Pandya) ने कहा,

“बल्लेबाजी मेरे दिल के थोड़ा करीब है. मैं बल्ले से ज्यादा योगदान नहीं दे रहा हूं लेकिन यह एक लंबा टूर्नामेंट है और आगे जाकर मैं बल्ले से योगदान देना चाहूंगा.”