27 और 28 जनवरी को हुई आईपीएल नीलामी में कई नए चेहरों को जगह दी गई। वहीं कई बड़े और पुराने प्लेयर फ्लॉप साबित हुए। या फिर यूं कहें तो उनकी आईपीएल में नीलामी ही नहीं हुई। ऐसे ही एक नवोदित क्रिकेटर हैं केरल के रहने वाले केएम आसिफ। केएम आसिफ की नीलामी आईपीएल ऑक्शन के दूसरे दिन हुई।

नीलामी के दौरान आसिफ एक अनजान चेहरे की तरह थे,जिन पर कोई भी फ्रेंचाइजी पैसा नहीं लगाना चाहती थी। और वो भी अनसोल्ड होने वाले थे। लेकिन ऐन वक्त में चेन्नई सुपर किंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने सबको हैरत में डाल दिया था। इसके बाद सीएसके ने केएम आसिफ को 40 लाख रूपये में खरीद लिया। लेकिन अब ये सवाल उठ रहा है कि चेन्नई ने इस अनजान खिलाड़ी पर इतना बड़ा दांव क्यों लगाया है।

चेन्नई ने क्यों लगाया दांव

हालांकि ये अभी सभी के बीच रहस्य बना हुआ है कि चेन्नई ने केएम आसिफ पर मेहरबानी क्यों की।जबकि आसिफ ने प्रथम श्रेणी के क्रिकेट के एक भी मैच का अनुभव नहीं है। लेकिन सैयद मुश्ताक अली ट्राफी में उन्होंने पांच विकेट जरूर झटके थे। आसिफ ने इस टूर्नामेंट में 145 किमी/घंटा की स्पीड से गेंद फेंक चुके हैं।

जेफ थॉमसन को किया प्रभावित इसलिए सीएसके लगाया दांव

 

केएम आसिफ ने आज से चार साल पहले केरल क्रिकेट संघ द्वारा आयोजित एक मैच के दौरान पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जेफ थॉमसन को अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया था। आसिफ शुरू में एक फुटबॉलर बनना चाहते थे। 24 वर्षीय आसिफ केरल के मल्लप्पुरम जिले के एडावन गांव के रहने वाले हैं।

थॉमसन ने की थी आसिफ की तारीफ

आसिफ की गेंदबाजी ने थॉमसन को काफी प्रभावित किया था। वो इतना प्रभावित हुए थे कि पॉर्थ में उन्होंने एक बार आसिफ का जिक्र किया था। इस दौरान थॉमसन ने कहा,”लड़का प्राकृतिक रूप से तेज गति में गेंदबाजी कर सकता है। मैंने उसे कुछ साल पहले केरल क्रिकेट संघ द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में देखा था। यदि उसे सही से प्रशिक्षण दिया जाए,तो वो लड़का किसी भी टीम के लिए अच्छी संपत्ति हो सकता है। गेंद पर उसका नियंत्रण हो चुका है।”

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *