केएल राहुल

भारतीय क्रिकेट टीम से ड्रॉप होने के बाद केएल राहुल अब विजय हजारे ट्रॉफी के दूसरे मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए शतक जड़ दिया है। झारखंड के खिलाफ खेलते हुए उन्होंने 122 गेंदों में 131 रनों की तूफानी पारी खेलकर सभी आलोचकों को बल्ले से करारा जवाब दिया है। वहीं कप्तान मनीष पांडे ने 50 रनों की पारी खेलकर पवेलियन लौट गए।

खराब फॉर्म होने के चलते हुए टेस्ट टीम से ड्रॉप

भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज केएल राहुल टेस्ट में लगातार निराशाजनक प्रदर्शन कर रहे थे। उनके आउट ऑफ फॉर्म होने के कारण टीम पर दबाव था परिणामस्वरूप उन्हें टेस्ट टीम से ड्रॉप कर दिया गया। उनकी जगह रोहित शर्मा को मयंक अग्रवाल के साथ ओपनिंग का मौका दिया गया है।

इतना ही नहीं चयनकर्ताओं ने वीवीएस लक्ष्मण का उदाहरण देते हुए कहा था कि वह घरेलू स्तर पर अच्छा प्रदर्शन कर टीम में वापसी कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें 1400 रन बनाने होंगे। इसलिए विजय हजारे में राहुल पर सभी की नजर रहेगी।

विजय हजारे में बल्ले से निकल रहे रन

इस बात में कोई दोराय नहीं है कि केएल राहुल के पास टेलेंट की जरा भी कमी है लेकिन पिछले कुछ दिनों से वह टीम के लिए कुछ खास रन नहीं बना पा रहे थे। इसलिए उन्हें घरेलू क्रिकेट खेलकर फॉर्म वापस लाने के लिए टीम से ड्रॉप कर दिया गया। अब राहुल विजय हजारे में अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं।

राहुल कर्नाटक की टीम के उपकप्तान हैं और मनीष पांडे टीम के कप्तान हैंं। पहले मैच में उन्होंने झारखंड के खिलाफ खेलते हुए 29 रन बनाए थे लेकिन दूसरे मैच में वह ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते दिखे। उन्होंने 122 गेंदों पर 131 रन बनाकर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया है। अपनी पारी में राहुल ने दस चौके और चार छक्के भी लगाये.

टैलेंटेड खिलाड़ी का यह प्रदर्शन उनके टीम में वापसी के रास्ते खोल सकता है। यदि राहुल इस घरेलू टूर्नामेंट में बल्ले से लगातार इसी तरह प्रदर्शन करते हैं तो उनके लिए टीम में वापसी करना काफी आसान हो जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *