kl rahul

शनिवार को शारजाह के मैदान पर पंजाब किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद का आमना-सामना हुआ। मैच में पंजाब की टीम ने 126 रनों का लक्ष्य रखा। मैच लो स्कोरिंग जरुर था, लेकिन रोमांच से भरपूर था। आखिर तक चले इस मैच में हैदराबाद की टीम 120 रन तक ही पहुंच सकी और KL Rahul की टीम ने 5 रनों से मैच को अपने नाम कर लिया। मैच जीतने के बाद राहुल ने गेंदबाजों की तारीफ की और बल्लेबाजों की क्लास लगाई।

जेसन होल्डर के काबिज हुए KL Rahul

KL Rahul

SRH के तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर जेसन होल्डर भले ही अपनी टीम को मैच ना जिता सके हो, लेकिन उन्होंने क्रिकेट फैंस का दिल जरुर जीत लिया। पहले उन्होंने 3 विकेट लिए और फिर 47 रनों की नाबाद पारी खेली, जिसमें उन्होंने 5 छक्के भी जड़े। इसलिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। मैच खत्म होने के बाद खुद पंजाब के कप्तान KL Rahul ने होल्डर की तारीफ की। उन्होंने कहा,

“मुझे उम्मीद है, हम कुछ इंटरटेनिंग क्रिकेट खेल रहे हैं और पिछले दो या तीन साल से कर रहे हैं, लेकिन हम जीत लूंगा। उन्होंने (होल्डर) बहुत अच्छा खेला। पहली गेंद से, पहले उन्होंने एक ही ओवर में दो विकेट लिए और फिर वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की, एक ऐसी पिच पर जहां बड़े शॉट खेलना मुश्किल था।”

20-30 रन बनाना चाहते थे और

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब किंग्स की टीम 125 रन ही बोर्ड पर लगा सकी थी। हालांकि शारजाह की पिच पर ये डिफेंडिंग टोटल था, जिसे टीम ने डिफेंड भी किया। मगर टीम के कप्तान KL Rahul का मानना है कि बल्लेबाजों को साझेदारियां बनानी चाहिए थी और 20-30 रन और बनाने चाहिए थे।

“हम बल्लेबाजी करते हुए 20-30 रन और बनाना चाहते थे लेकिन हमने जीत हासिल की। यह हमें विश्वास दिलाता है कि चाहे कैसी भी स्थिति हो, हमारे गेंदबाज विपक्षी टीम को आउट कर सकते हैं अगर हमें अच्छा स्कोर मिलता है। शमी ने शुरुआत की, वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की, वार्नर और विलियमसन को दो बड़े बल्लेबाजों का आउट किया। उन्होंने हमारे स्पिनरों के लिए एक अच्छी लाइन और लेंथ में गेंदबाजी करने को कुछ आसान कर दिया। बल्लेबाजों के लिए सबक यह महसूस करना होगा कि हां, ये 160-170 वाला विकेट नहीं है, अगर हमने कुछ साझेदारियां बनाई होतीं, तो हम 140-150 तक पहुंच सकते थे।”

हरप्रीत ब्रार हर तरह से देते हैं मैच में योगदान

KL Rahul

पंजाब के कप्तान KL Rahul ने अपने गेंदबाज हरप्रीत ब्रार के बारे में भी बात की। हरप्रीत ने इस मैच में भले ही एक भी विकेट ना लिए हो, लेकिन पंजाब को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाने में बड़ा योगदान दिया था। उन्होंने 18 गेंदों पर 18 रनों की नाबाद पारी खेली थी। जिसकी बदलौत पंजाब की टीम 125 के टोटल तक पहुंच सकी। राहुल ने बरार के बारे में कहा,

“वह (हरप्रीत) हमारे लिए अच्छा रहा है, वह सब कुछ कर सकता है। हमारे लिए कुछ गेम फिनिश किए हैं, हमें गेंद से कंट्रोल भी देते हैं और मैदान पर अच्छी फील्डिंग करते हैं। जब भी मैं उसके पास जाता हूं, वह मुझसे कहता है, ‘पाजी (भाई) चिंता मत करो, मैं रन लीक नहीं करूंगा’। यही उसका रवैया है।”