KL Rahul- MOM IPL

चेन्नई सुपर किंग्स और पंजाब किंग्स (CSK vs PBKS) के बीच खेले गया IPL 2021 का 53वां मैच बेहद रोमांचक रहा. इस मुकाबले में केएल राहुल (KL Rahul) ने शानदार पारी खेलते हुए अपनी टीम को जबरदस्त जीत दिलाई और मैन ऑफ द मैच का खिताब भी अपने नाम किया. टॉस जीतकर पंजाब के कप्तान ने गेंदबाजी का फैसला करते हुए एमएस धोनी (MS Dhoni) को बल्लेबाजी का न्योता दिया था. उनका ये फैसला सही साबित हुआ. चेन्नई की शुरूआत बेहद खराब रही और 6 विकेट के नुकसान पर पूरी टीम सिर्फ 134 रन का ही स्कोर खड़ी कर सकी. जिसका पीछा करने उतरी पंजाब ने ताबड़तोड़ शुरूआत करते हुए इस मुकाबले को 13 ओवर में ही अपने नाम कर लिया.

पंजाब के खिलाफ लगातार तीसरे मैच में चेन्नई हुई पस्त

KL Rahul

टॉस जीतकर पहले फिल्डिंग करते हुए पंजाब किंग्स के गेंदबाजों ने चेन्नई के बल्लेबाजों को क्रीज पर सेट होने का मौका नहीं दिया. आज के मैच में एक बार फिर रूतुराज गायकवाड़ महज 12 रन बनाकर अर्शदीप सिंह के जाल में फंस गए. मोईन अली बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए. उथप्पा 2 रन रायडू 4 रन वहीं कप्तान एमएस धोनी 12 रन बनाकर अपना विकेट गंवा बैठे. शुरू से अंत तक पंजाब के गेंदबाज चेन्नई पर हावी रहे और मिडिल ऑर्डर में एक भी बल्लेबाज अच्छी पारी नहीं खेल सका.

 

हालांकि एक तरफ से फाफ डु प्लेसी ने जरूर अच्छी पारी खेली. उन्होंने 8 चौके और 2 छक्के की मदद से 78 रन बनाए. लेकिन कोई और बल्लेबाज उनका साथ नहीं दे सका. सीएसके ने पंजाब के सामने 135 रन का लक्ष्य रखा था. जिसका पीछा करने उतरे केएल राहुल (KL Rahul) और मयंक अग्रवाल ने ताबड़तोड़ शुरूआत की. पहला झटका जल्दी लगने के बाद भी पंजाब के कप्तान रूके नहीं और अपनी तूफानी पारी (98) से टीम महज 13वें ओवर में शानदार जीत दिलाई. तो वहीं चेन्नई को लगातार तीसरा हार का सामना करना पड़ा है.

जीत के बाद मैन ऑफ द मैच बने कप्तान KL ने दिया बड़ा बयान

t4rgt

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मिली शानदार जीत के बाद मैच प्रजेंटेशन में बात करते हुए पंजाब किंग्स के कप्तान और मैन ऑफ द मैच (MOM) बने केएल राहुल (KL Rahul) ने बात करते हुए कहा कि,

“जब आप इस तरह से आगे बढ़ते हैं तो आपको लगता है कि आप हर गेंद को हिट कर सकते हैं. आपको अपना आकार धारण करने की आवश्यकता है. मैं खुद से केवल यही कहता रहता हूं कि मैं पावर-हिटर नहीं हूं. मैं अभी भी समय पर और अपने शरीर को अच्छी स्थिति में लाने पर निर्भर हूं. इसलिए मैं खुद से कहता रहता हूं कि मजबूत बनो. गेंद को देखो और सही शॉट खेलने के लिए अपनी तकनीकि पर भरोसा करो.

नेट्स में मैं अपने दिमाग को ट्रेंड करता हूं और बीच में सही चुनाव करने के लिए अपनी प्रवृत्ति को प्रशिक्षित करता हूं. गेंद को बल्ले के बीच में मारने और गेंद को पूरे मैदान में उड़ते हुए देखने से बेहतर कोई एहसास नहीं है. आज वास्तव में मौसम काफी गर्म था. हमारी योजना आसान थी. हम तेजी से रन बनाना चाह रहे थे. आज मैं उस तरह से खेल रहा था जैसे खेलने की जरूरत थी.”