KKR

गुरुवार शाम दिन का दूसरा मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच शारजाह के मैदान पर खेला गया। मैच की शुरुआत संजू सैमसन के टॉस जीतकर किए गए गेंदबाजी के फैसले के साथ हुई। परिणामस्वरूप पहले बल्लेबाजी करने उतरी KKR के बल्लेबाजों ने राजस्थान के गेंदबाजों की खूब पिटाई की और 4 विकेट के नुकसान पर 172 रनों का लक्ष्य निर्धारित किया। जवाब में राजस्थान की टीम 85 के स्कोर पर ही ऑलआउट हो गई और KKR ने 86 रन से मैच जीत लिया।

टॉस जीतकर संजू सैमसन ने चुनी गेंदबाजी

KKR

कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स इस सीजन का अपना-अपना आखिरी लीग मैच खेलने मैदान पर उतरी। मैच के शुरुआत संजू सैमसन के टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने के फैसले के साथ हुई। इस बड़े मुकाबले में KKR ने टिम साउथी की जगह फिट हो चुके लॉकी फर्ग्यूसन को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया। तो वहीं राजस्थान की टीम ने 4 बदलाव किए। टीम में लियाम लिविंगस्टोन, क्रिस मॉरिस, अनुज रावत और जयदेव उनादकट को शामिल किया।

राजस्थान रॉयल्स: यशस्वी जायसवाल, लियाम लिविंगस्टोन, संजू सैमसन (विकेटकीपर-बल्लेबाज), ग्लेन फिलिप्स, अनुज रावत, शिवम दुबे, क्रिस मॉरिस, राहुल तेवतिया, जयदेव उनादकट, चेतन सकारिया, मुस्तफिजुर रहमान।

कोलकाता नाइट राइडर्स: शुभमन गिल, वेंकटेश अय्यर, राहुल त्रिपाठी, नितीश राणा, इयोन मोर्गन (कप्तान), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), शाकिब अल हसन, सुनील नरेन, लॉकी फर्ग्यूसन, शिवम मावी, वरुण चक्रवर्ती

KKR ने दिया 172 रनों का लक्ष्य

KKR

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी KKR की ओपनिंग जोड़ी ने टीम को मजबूत शुरुआत दी। पहले विकेट के लिए शुभमन गिल व वेंकटेश अय्यर के बीच 79 रनों की साझेदारी हुई। इस साझेदारी को तोड़ने का काम राहुल तेवतिया ने किया और अय्यर को 38 (35) पर चलता कर दिया। इसके बाद कोलकाता का दूसरा विकेट नितीश राणा के रूप में गिरा।

राणा 5 गेंदों पर 12 रन बनाकर ग्लेन फिलिप का शिकार हुए। फिर गिल और राहुल त्रिपाठी ने तेजी से केकेआर की पारी को आगे बढ़ाया और साझेदारी बनाई। इस दौरान गिल ने अर्धशतक पूरा किया, मगर हाफ सेंचुरी बनाने के बाद वह ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं रुक सके। क्रिस मॉरिस ने उन्हें 56 (44) रन पर चलता कर दिया।

मगर गिल ने एक बेहतरीन पारी खेली। इसके बाद राहुल त्रिपाठी को चेतन सकारिया ने 21 (14) बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखाया। आखिर में दिनेश कार्तिक 14 (11) व इयोन मोर्गन 13 (11) रन पर नाबाद रहे। इस तरह KKR ने 4 विकेट के नुकसान पर 172 रनों का लक्ष्य खड़ा किया। राजस्थान की ओर से जयदेव उनादकट सबसे महंगे साबित हुए, क्योंकि उन्होंने स्पेल में 35 रन दिए और एक भी विकेट नहीं निकाल सके। वहीं क्रिस मॉरिस, चेतन सकारिया, राहुल तेवतिया और ग्लेन फिलिप ने एक-एक विकेट चटकाए।

86 रनों से हारी राजस्थान रॉयल्स

KKR

कोलकाता नाइट राइडर्स के दिए 172 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान रॉयल्स ने बहुत ही खराब शुरुआत की। टीम ने पावर प्ले में ही अपने 4 विकेट गंवा दिए। यशस्वी जायसवाल बिना खाता खोले शाकिब अल हसन का शिकार हुए, फिर संजू सैमसन को शिवम मावी ने सिर्फ 1 रन पर चलता कर दिया। तीसरा झटका RR को लियाम लिविंगस्टोन के रूप में लगा, जो 6 गेंद पर 6 रन बनाकर चौथे ओवर की दूसरी गेंद पर लॉकी फर्ग्यूसन का शिकार हुए। फर्ग्यूसन ने इसी ओवर की चौथी गेंद पर अनुज रावत को गोल्डन डक पर आउट कर दिया।

इस खराब शुरुआत के बाद टीम का वापसी करना असंभव था। ग्लेन फिलिप और शिवम दुबे किसी तरह से पारी को आगे बढ़ा ही रहे थे, की तभी शिवम मावी ने फिलिप 8 (12) को चलता कर दिया। ओवर की आखिरी गेंद पर मावी ने शिवम दुबे 18 (20) को चलता कर राजस्थान की उम्मीदों को बड़ा झटका दिया। अगले ओवर में वरुण चक्रवर्ती ने क्रिस मॉरिस को शून्य पर ही चलता किया। इसके बाद जयदेव उनादकट 6 (5) रन पर लॉकी फर्ग्यूसन के हाथों आउट हुए।

चेतन सकारिया के रूप में राजस्थान ने अपना नौवां विकेट खोया, जब शाकिब और कार्तिक ने उन्हें रन आउट कर दिया। राजस्थान ने निराश जरूर किया, लेकिन दूसरे छोर से लगातार विकेट गिरते रहे, तो राहुल तेवतिया क्रीज पर एक छोर संभालकर खड़े रहे। मगर टीम का 10वां विकेट शिवम मावी ने तेवतिया को 44 (36) पर आउट कर चटकाया। इस तरह राजस्थान की टीम 85 रन पर ऑलआउट हो गई और KKR ने 86 रनों से जीत दर्ज की।