Kevin Pietersen

आईपीएल 2021 (IPL 2021) को कोरोना महामारी के चलते स्थगित किया जा चुका है. लेकिन, इससे जुड़ी प्रतिक्रियाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं. हाल ही में ईसीबी (ECB) के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट एश्ले जाइल्स ने एक बयान जारी करते हुए यह बात कही थी कि यह सीजन दोबारा शुरू होता है तो इसके लिए इंग्लिश प्लेयर्स को इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने की मंजूरी नहीं दी जाएगी. इसी बयान के बाद अब इंग्लैंड के ही पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन (kevin pietersen) ने बड़ा बयान दे दिया है.

ईसीबी के फैसले के बाद पीटरसन ने दिया बड़ा बयान

kevin pietersen

दरअसल ईसीबी की ओर से लिए गए फैसले के बाद पीटरसन ने साल 2009 की बात याद दिलाई है. उन्होंने बताया कि इस दौर में वो आईपीएल खेलने वाले एकमात्र इंग्लिश खिलाड़ी थे. उस दौरान वो अकेले क्रिकेट बोर्ड (ECB) के खिलाफ गए थे. लेकिन, अब तो कई बेहतरीन खिलाड़ी हैं, जो एकजुट होकर इस लीग में खेलने के लिए जा सकते हैं.

इस बारे में सोशल मीडिया के जरिए बयान देते हुए केविन पीटरसन (kevin pietersen) ने लिखा कि,

“ये देखना दिलचस्प होगा कि ईसीबी इस मामले को किस तरह से हैंडल करती है. आईपीएल 2021 के दोबारा से शेड्यूल जारी होने के बाद अपने बेहतरीन खिलाड़ियों को न जाने देना मजेदार होने वाला है. मैं भी 2009 में अकेला था अब बेस्ट ब्रांडेड प्लेयर्स हैं. यदि वो एकजुट हुए, तो सभी इस टूर्नामेंट में खेल सकते हैं”.

आज के समय में 14 इंग्लिश प्लेयर्स हैं आईपीएल का हिस्सा

WhatsApp Image 2021 05 13 at 1.17.37 PM

याद हो कि, साल 2009 में केविन पीटरसन (kevin pietersen) को साल 2009 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने खरीदा था. इस दौरान  ईसीबी के साथ ही कई पूर्व इंग्लिश खिलाड़ियों ने भी पीटरसन के इस फैसले को गलत ठहराया था. लेकिन, इसके बाद धीरे-धीरे पॉल कोलिंगवुड, जो रूट, जोस बटलर, इयोएन मॉर्गन फिर बेन स्टोक्स समेत कई इंग्लिश खिलाड़ी आईपीएल की तरफ आकर्षित हुए.

आज के दौर में तकरीबन 14 इंग्लिश खिलाड़ी ऐसे हैं जो इस लीग का हिस्सा हैं. यदि वो इस टूर्नामेंट में नहीं खेले तो फ्रेंचाइजीज को काफी ज्यादा नुकसान होगा.

जाइल्स ने आईपीएल 2021 स्थगित होने के बाद दिया था बड़ा बयान

WhatsApp Image 2021 05 13 at 1.21.14 PM

केविन पीटरसन (kevin pietersen) से पहले पहले ही आईपीएल के स्थगित होने के बाद जाइल्स ने ESPN क्रिकइन्फो से बातचीत करते हुए कहा था कि,

“इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के 14वें सीजन में खेलने के लिए 10 से ज्यादा खिलाड़ियों को न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज छोड़ने की इजाजत दी थी. लेकिन, अब आईपीएल के बचे हुए मैचों के लिए ऐसा संभव नहीं होगा”.

उन्होंने यह भी कहा कि, आगामी 3 से 4 महीनों के अंदर इंग्लैंड टीम को कई देशों के दौरे पर जाना है. जून में टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलनी है. इसके बाद श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज खेलना है. फिर 4 अगस्त से 14 सितंबर तक भारत के खिलाफ 5 टेस्ट मैच खेलने है. इसके बाद एशेज और टी-20 वर्ल्ड कप भी होगा. ऐसे में हम नहीं चाहते कि हमारे टीम के टॉप खिलाड़ी ICC के बड़े टूर्नामेंट से पहले चोटिल हों या फिटनेस में कोई समस्या हो.