ENG vs IND 2022
ENG vs IND 2022: Jasprit bumrah and Virat Kohli

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज करसन घावरी (Karsan Ghavri) ने एजबेस्टन में खेले गए 5वें टेस्ट मैच में जसप्रीत बुमराह को कप्तान बनाए जाने पर बड़ी प्रतिक्रिया दी है. भारतीय टीम के नियमित कप्तान रोहित शर्मा इस टेस्ट मैच से पहले कोरोना पॉजिटिव हो गए थे. जसकी वजह से बुमराह को कप्तानी करने का मौका मिला, लेकिन बुमराह अपनी कप्तानी में 5 मैचों की सीरीज के अंतिम मुकाबले में टीम को जीत नहीं दिला पाए. जिसकी वजह से उन्हें आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा. वहीं बुमराह को इस टेस्ट के लिए कप्तान बनाए जाने पर पूर्व तेज गेंदबाज करसन घावरी काफी नाराज नजर आए.

Karsan Ghavri बुमराह की कप्तानी पर भड़के

ENG vs IND 2022
Karsan Ghavri

टीम इंडिया के पास इंग्लैंड में सीरीज जीतने का अच्छा मौका था, लेकिन बुमराह अपनी कप्तानी में इस मौके को भुना नहीं पाए. जिसके चलते यह सीरीज 2-2 से बराबर हो गई. वहीं ऐजबेस्टन में मिली हार का ठीकरा बुमराह की कप्तानी पर फोड़ा जा रहा है, क्योंकि उन्होंने इस टेस्ट से पहले कभी कप्तानी की ही नहीं थी. इसलिए करसन घावरी (Karsan Ghavri)  बुमराह को कप्तान बनाए जाने पर नाराज नजर आए. उन्होंने मिड-डे पर बातचीत के दौरान कहा,

 ‘बुमराह ने कभी किसी टीम की कप्तानी नहीं की है. रणजी टीम भूल जाओ, उसने तो क्लब लेवल पर भी कप्तानी नहीं की है. देखिए, एक कप्तान का दिमाग बिल्कुल अलग होता है. उसको लगातार फील्ड प्लेसमेंट के बारे में सोचना होता है, बॉलिंग चेंज के बारे में सोचना होता है और रणनीति के बारे में सोचना होता है. ड्रेसिंग रूम में मुझे विश्वास है कि हेड कोच राहुल द्रविड़ और थिंक टैंक ने काफी प्लान बनाए होंगे, बुमराह रणनीति के हिसाब से काम नहीं कर पाए’

‘बुमराह ने तो कभी क्लब लेवल पर भी कप्तानी नहीं की है’

WTC Points Table Rahul Dravid And Jasprit Bumrah
Bumrah and Dravid

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को टेस्ट फॉर्मेट का सबसे सफल कप्तान माना जाता है, क्योंकि विराट कोहली ने टीम इंडिया की कमान 68 टेस्ट मुकाबलों में संभाली है, जिसमें से उन्होंने 40 टेस्ट में जीत हासिल की है और 17 टेस्ट हारे हैं. उन्होंने इस टेस्ट कप्तानी में धोनी और अजहरुद्दीन जैसे दिग्गजों को पीछे छोड़ दिया.

उसके बावजूद भी इंग्लैंड में कोहली के होते बुमराह को कप्तानी सौंपी गई. वैसे कयास लगाए जा रहे थे कि रोहित की गैरमौजूगी में कोहली को कप्तान बनाया जा सकता है, पर ऐसा देखने को नहीं मिला. करसन घावरी (Karsan Ghavri) का भी मानना है बुमराह की जगह कोहली को कप्तान बनाया जाना चाहिए था. उन्होंने आगे कहा,

‘अगर रोहित समय पर फिट नहीं हुए थे, तो विराट कोहली को कप्तानी करनी चाहिए थी. विराट को आगे आकर कहना चाहिए था कि मैं टीम की जिम्मेदारी लेता हूं और कप्तानी करूंगा, जीतना और हारना तो खेल का हिस्सा है, लेकिन ऐसी मुश्किल परिस्थिति में मुझे लगता है कि विराट को आगे आना चाहिए था’

One reply on “‘रणजी टीम भूल जाओ, उसने तो क्लब लेवल पर भी कप्तानी नहीं की है’, जसप्रीत बुमराह को कप्तान बनाने पर आग-बबूला हुआ खिलाड़ी”

Comments are closed.