Virat Kohli

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पिछले ढाई सालों से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं। हाल ही में हुए एजबेस्टन टेस्ट में भी विराट कोहली का बल्ला शांत ही नजर आया। आउट ऑफ फॉर्म होने की वजह से विराट कोहली आए दिन किसी न किसी के निशाने पर होते हैं। इसी बीच पाकिस्तान के स्पिनर दानिश कनेरिया ने भी विराट कोहली के लिए कहा कि वे टीम के लिए बोझ बनते जा रहे हैं।

Virat Kohli के लिए दानिश कनेरिया ने कही चौंका देने वाली बात

Virat Kohli

दानिश कनेरिया ने अपने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए कहा कि विराट कोहली टीम इंडिया के लिए बोझ बनते जा रहे हैं। दानिश ने अपने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए कहा,

“टीम इंडिया ने भी इस मैच में दिलचस्पी दिखाई, चाहे ऋषभ पंत की बात करें या रवींद्र जडेजा, दोनों ने दिलचस्पी दिखाई है। लेकिन बाकी प्लेयर्स ने क्या किया। वो इंग्लैंड में सिर्फ टूर करने गए थे क्या वो सिर्फ घूमने-फिरने गए थे, ऐसा नहीं होता। अगर टीम के सीनियर खिलाड़ी की बात करें तो विराट कोहली ऐसा खिलाड़ी है जिसके होने टीम में जान आती है। लेकिन आपको रन भी बनाने होते हैं अगर वो रन नहीं बनाएंगे तो वो टीम पर बोझ बन जाएंगे।”

Virat Kohli से इस मैच में रनों की उम्मीद थी: दानिश

Virat Kohli

एजबेस्टन टेस्ट मैच में विराट कोहली ने टीम इंडिया की पहली पारी के दौरान 11 रन और दूसरी पारी के दौरान 20 रन बनाए थे। विराट का टेस्ट में ऐसा प्रदर्शन देखने के बाद दानिश ने कहा कि उन्हें विराट से इस मैच में रनों की उम्मीद थी। दानिश ने आगे कहा,

”अब तो तीन साल हो गए हैं, इस टेस्ट मैच में उनसे रनों की उम्मीद थी लेकिन इस मैच में भी वे रन नहीं बना सके। वहीं, जस्सी की बात करें तो वो पहली बार कप्तानी कर रहे थे इसलिए मैं तो उनकि आलोचना नहीं करूंगा, बाकी करते हैं तो करें।”

अपने बयान में इतनी सारी बातें बोलने के बाद कनेरिया ने अंत में कहा कि इस एकमात्र टेस्ट मैच में विराट कोहली (Virat Kohli) को टीम इंडिया की कमान सौंप सकते थे।

ढाई साल पहले लगाया था Virat Kohli ने अपना आखिरी शतक

Virat Kohli ENG vs IND

बांग्लादेश के खिलाफ नवंबर 2019 में विराट कोहली ने अखिरी शतक लगाया था। भारतीय टीम ने कोलकाता में बांग्लादेश के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट खेला। जिसमें विराट कोहली ने टीम इंडिया के लिए 136 रन की पारी खेली। उनकी पारी के दम पर भारत ने टेस्ट मैच जीता। इस मैच के बाद किंग कोहली ने 18 टेस्ट, 21 वनडे और 25 टी20 मैच खेले, शतक की तो बात ही छोड़िए, वो अच्छा स्कोर भी नहीं बना सके।