Kane Williamson
Kane Williamson

ICC T20 World cup 2021 में केन विलियमसन (Kane Williamson) की कप्तानी में खेल रही न्यूजीलैंड का शानदार प्रदर्शन लगातार जारी है । अपने पहले मुकाबलें में पाकिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद टीम ने शानदार वापसी करते हुए अपने अगले तीनो मुकाबलें जीते है। जिसमे भारतीय टीम के खिलाफ खेला गया बड़ा मुकाबला भी शामिल है। शुक्रवार को हुए टूर्नामेंट के 36वे मुकाबलें (NZ vs NAM) में न्यूजीलैंड ने नामीबिया को 52 रनों के बड़े अंतर से हराकर सेमीफाइनल के तरफ अपने कदम मजबुती से बढ़ा दिए हैं।

न्यूजीलैंड ने हासिल की शानदार जीत

Kane Williamson

टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड के लिए दोनों ओपनर बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल (Martin Guptil) और डेरी मिचेल (Daryl Mitchell) ने मिलकर अच्छी शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 30 रन जोड़े। लेकिन दोनों ही बल्लेबाज अपनी पारी को बड़ी नहीं बना पाए. कप्तान विलियमसन (Kane Williamson) को भी अच्छा स्टार्ट मिला लेकिन वो भी अपनी पारी को एक बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पाए और 28 रन बनाकर चलते बने.  लेकिन अंत में जेम्स नीशाम (James Neesham)  ने ग्लेन फिलिप्स (Glenn Phillips) के साथ मिलकर पांचवे विकेट के लिए 36 गेंदों पर 73 रनों की ताबड़तोड़ साझेदारी करके टीम का स्कोर 163 रनों के एक बड़े टोटल तक पहुंचा दिया।

यह भी पढ़ें: Virat Kohli ने जीत के बाद गेंदबाजो की तारीफ़ में कही बड़ी बात,

नीशम ने 35 रन बनाए तो वही फिलिप्स ने 39 रनों की पारी खेली। जवाब में नामीबिया के बल्लेबाजों ने भी अच्छी शुरुआत की और पहले विकेट के लिए बार्ड (Stephan Baard)और वैन लिंगें (Michael Van Lingen) ने मिलकर 47 रन जोड़े। लेकिन पहला विकेट गिरने के बाद नामीबिया के तरफ से केवल विकेट कीपर बल्लेबाज जेन ग्रीन (Zane Green) ही थोडा मुकाबला करते नजर आये। जिसके कारण नामीबिया की पूरी टीम 111 रनों तक ही पहुँच पायी और मैच को 52 रनों के बड़े अंतर से गवां बैठी।

अफ़गानिस्तान काफी मज़बूत टीम है: Kane Williamson

Kane Williamson

सेमीफाइनल में पहुँचने के लिहाज से न्यूजीलैंड को ये मुकाबला जीतना काफी जरुरी था. इस बेहद ही अहम् मुकाबले में जीत हासिल करने के बाद टीम के कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) काफी खुश नजर आये. पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान उन्होंने अपने खिलाड़ियों की तारीफ़ करते हुए कहा,

नीशम और फिलिप्स की पार्टरनरशिप काफी बढ़िया थी। यह उस वक्त आया तब हमें जरूरत थी। यहां पिच थोड़ी कठिन थी और बल्लेबाजी करना कठिन था। हमने कोशिळ की जिस तरफ बाउंड्री छोटी है, उधर ज्यादा से ज्यादा शॉट लगाए जाएं। हमें पता था कि एक या दो बढ़िया ओवर हमें एक अच्छे टोटल की तरफ धकेल सकता है औ हमारा ध्यान उसी तरफ था। अफ़गानिस्तान काफी मज़बूत टीम है, यह मैच एक अलग मैदान पर है और वह भी हमारे लिए चैलेंजिंग होने वाला है। हालांकि हम उस मुक़ाबले का इंतजार कर रहे हैं और उसके लिए तैयार हैं।