Joe Root-Virat kohli

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए लीड्स टेस्ट मैच में वही हुआ, जिसका सबको पहले ही दिन अंदेशा हो गया था। Joe Root की टीम ने सीरीज में जबरदस्त वापसी की और भारत को पारी व 76 रनों से हार का स्वाद चखाया। अब सीरीज 1-1 पर आकर खड़ी हो गई है। मगर अब तक सीरीज में भारत का अनुभवी व टॉप क्लास बल्लेबाजों से सजा मध्य क्रम उम्मीद पर खरा नहीं उतर पा रहा है। वहीं दूसरी ओर Joe Root का बल्ले से बैक टू बैक शतक निकल रहे हैं।

कोहली-रहाणे, पुजारा नहीं बना पाए रूट के बराबर रन

Joe Root

इंग्लैंड क्रिकेट टीम और भारतीय क्रिकेट टीम के बीच खेली जा रही 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में अब तक भारत के मध्य क्रम का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है। जिसका खामियाजा पूरी टीम को भुगतना पड़ रहा है। इतना ही नहीं आंकड़ों पर जाएं, तो अब तक ये तीनों महारथी बल्लेबाज उतने रन भी नहीं बना पाए हैं, जितने रूट अकेले ही बना चुके हैं।

जी हां, जहां एक ओर अबतक 5 पारियों में Joe Root ने 3 शतकों की मदद से 507 रन बना लिए हैं। दूसरी ओर अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा ने सीरीज में सिर्फ 1-1 अर्धशतक लगाया है और फिर भी वह रूट से 126 रन कम बना सके हैं।

ऐसा ही चला रहा तो भारत को होगी मुश्किल

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज अच्छी लय में दिख रहे हैं। हालांकि पिछली 3 पारियों में केएल राहुल कुछ खास स्कोर नहीं बना सके हैं। उसके बाद मध्य क्रम का प्रदर्शन तो लगातार ही निराशाजनक है। देखा जा रहा है कि चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे स्विंग के सामने संघर्ष कर रहे हैं। अब यदि आगे ऐसा ही चलता रहा, तो भारत के लिए सीरीज में काफी मुश्किलें खड़ी हो जाएंगी। इसके अलाना ऋषभ पंत के बल्ले से भी अब तक एक भी बड़ी पारी नहीं निकली है, अब ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा की भारत की फ्लॉप बैटिंग इस सीरीज पर भारी पड़ सकती है।

1-1 से बराबर हो गई सीरीज

joe root

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज अब रोमांचक मोड़ पर पहुंच गई है। पहला मैच ड्रॉ रहा फिर दूसरा मैच भारत ने और तीसरा मैच इंग्लैंड ने जीतकर सीरीज को 1-1 से बराबर कर दिया है। अब अगला मुकाबला 2 सितंबर से खेला जाएगा। लीड्स में मिली करारी हार से उबरने के लिए टीम इंडिया अपने सर्वश्रेष्ठ के साथ मैदान पर उतरना चाहेगी। तो वहीं इंग्लिश टीम इस जीत की लय को बरकरार रखते हुए सीरीज में बढ़त बनाना चाहेगी।