Jasprit Bumrah ready for captaincy "if given the responsibility
Jasprit Bumrah ready for captaincy "if given the responsibility

विराट कोहली (Virat Kohli) के बाद टेस्ट कप्तान कौन होगा ये एक बड़ा सवाल लोगों के सामने है. इसी बीच जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने भी इस मसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले वनडे में उतरने से पहले हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए उन्होंने के सवालों का जवाब दिया है. इस सीरीज में भी उन्हें उप-कप्तानी का जिम्मा सौंपा गया है. ऐसे में जब जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) से ये सवाल किया गया कि क्या वो टेस्ट कप्तानी के लिए तैयार हैं तो उन्होंने इसे लेकर क्या कुछ कहा ये भीआपको हम बता देते हैं.

टेस्ट टीम की मेजबानी संभालने को तैयार बुमराह

Jasprit Bumrah ready for test captaincy

विराट कोहली के टेस्ट कप्तानी से रिटायरमेंट के बाद इस रेस में केएल राहुल, ऋषभ पंत और रोहित शर्मा जैसे दिग्गजों का नाम है. इसमें जस्सी का भी नाम है जो टेस्ट प्रारूप में सर्वश्रेष्ठ तेजी गेंदबाजों की लिस्ट में गिने जाते हैं.  सोमवार को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने यह बात स्पष्ट भी कर दी है कि वो टेस्ट की कमान संभालने के लिए तैयार हैं. उनसे जब यह सवाल किया गया कि यदि उन्हें कप्तानी की जिम्मेदारी मिलती है तो क्या वो इसे निभाएंगे.

तो इस सवाल पर जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने कहा अगर मौका मिलता है तो वो निश्चित तौर पर ऐसा करना चाहेंगे. लेकिन, इसके पीछे वो भाग नहीं रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने विराट के टेस्ट कप्तानी छोड़ने के सवाल पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी. इस बारे में उन्होंने कहा,

“मैंने उनकी कप्तानी में अपना पहला टेस्ट खेला था. वो कप्तानी में मदद करते रहेंगे और अपने सुझाव देते रहेंगे. बेशक हमें टीम मीटिंग में इस बारे में बताया गया था. इसके बाद ही विराट ने ऑफिशियल तौर पर इसका अनाउंसमेट किया.”

युवा खिलाड़ियों के सवाल का जवाब देना पसंद करता हूं- जस्सी

Jasprit Bumrah

इसके साथ ही वनडे टीम की उप-कप्तानी पर बात करते हुए जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने कहा,

“मैं जितनी मदद कर सकता हूं करूंगा. फील्ड सेट करने में राहुल की हेल्प करूंगा. लेकिन, मैं बाकी जिम्मेदारी का दबाव नहीं लूंगा. हर किसी को जिम्मेदारियां लेना पसंद होता है. मैं जिस तरीके से योगदान दे सकता हूं दूंगा.

जब मैं एक गेंदबाज के रूप में आया था तब मैं काफी सवाल पूछता था. इसलिए जब युवा खिलाड़ी अंदर आते हैं तो मैं जवाब देना पसंद करता हूं, क्योंकि मैं उनके सुझावों से सीख सकता हूं.”