Ishant Sharma

IND vs NZ 2021: भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपूर में खेला गया 2 टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला ड्रा पर समाप्त हुआ. इस मुकाबलें में भारतीय टीम के कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane), अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteswar Pujara) और अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा. तो वही अपना पहला मैच खेल रहे श्रेयस अय्यर, रविन्द्र जडेजा, रविचंद्रन आश्विन और अक्षर पटेल ने अपने शानदार प्रदर्शन से काफी चर्चा बटौरी.

मैच के बाद पुजारा, रहाणे और इशांत की काफी आलोचना हुई. हालाँकि अब टीम के नए गेंदबाजी कोच पारस महांब्रे (Paras Mahambrey) ने इन तीनो खिलाड़ियों का बचाव करते हुए इनके बारे में एक बड़ा बयान दिया है.

इशांत को लय में लौटने के लिए थोड़ा समय देने की जरुरत है

Ishant Sharma

न्यूजीलैंड के साथ कानपुर में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारतीय अनुभवी गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा. इशांत (Ishant Sharma) इस पुरे मुकाबलें में एक भी विकेट लेने में कामयाब नहीं हो पाए. इशांत शर्मा ने पिछले चार टेस्ट में 109 . 2 ओवर डालकर सिर्फ आठ विकेट लिए हैं. मैच के बाद दायें हाथ के इस गेंदबाज की काफी आलोचना हुई. उसके बाद अब टीम के नए गेंदबाजी कोच पारस महांब्रे (Paras Mahambrey) ने इशांत का बचाव करते हुए उनके बारे में एक बड़ा बयान दिया है. पारस ने कहा,

आइपीएल के दूसरे चरण में उन्हें दिल्ली कैपिटल्स के लिये खेलने का मौका नहीं मिला. उन्हें टी20 विश्व कप के लिए भी नहीं चुना गया था. हम उसकी लय पर काम कर रहे हैं और हमें इसकी जानकारी है . मुझे यकीन है कि कुछ मैचों के बाद वह लय हासिल कर लेगा.

युवा गेंदबाजों को मिलती है इशांत से मदद

Ishant Sharma

इशांत के बारे में बात करते हुए पारस ने आगे कहा कि, तीन सौ से अधिक टेस्ट विकेट ले चुके इशांत (Ishant Sharma) का काम विरोधी टीम के विकेट लेना ही नहीं बल्कि मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) और प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) जैसे युवा तेज गेंदबाजों का मार्गदर्शन करना भी है. उन्होंने कहा,

उसके पास अपार अनुभव है और ड्रेसिंग रूम में उसके होने से काफी फर्क पड़ता है . युवा तेज गेंदबाज उससे तेज गेंदबाजी की बारीकियां सीख सकते हैं और इससे काफी मदद मिलेगी.

हम सभी उनके साथ हैं: पारस महांब्रे

ajinkya rahane-pujara

भारतीय अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteswar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) का प्रदर्शन पिछले 1 सालों में काफी औसत दर्जे का रहा है. रहाणे ने साल 2021 में केवल 19.57 से रन बनाए है. दोनों बल्लेबाजों के खराब फॉर्म के बारे में बात करते हुए पारस महांब्रे ने कहा,

उनके पास अपार अनुभव है और उन्होंने काफी क्रिकेट खेला है. एक टीम के रूप में हम जानते हैं कि उन्हें लय में लौटने के लिये एक पारी की जरूरत है और हम सभी उनके साथ हैं.