Ishan IPL Photo

अगर कोई क्रिकेटर आईपीएल में धमाल मचाता है तो उसके लिए टीम इंडिया में इंट्री करना आसान हो जाता है। इसी क्रम में हम बात करेंगे मुंबई इंडियंस के एक स्टार क्रिकेटर के बारे में जो टीम इंडिया में इंट्री करने के लिए बेताब है। सिर्फ टीम इंडिया में इंट्री करना ही नहीं बल्कि टीम का कप्तान बनाना भी उनका बहुत बड़ा सपना है। हम बात कर रहे है स्टार क्रिकेटर ईशान किशन के बारे में जिन्होंने आईपीएल के दौरान धमाल मचाया था।

आईपीएल खेलकर अपने जन्मभूमि पहुचे किशन

Capture2651

आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए धमाल मचाने वाले स्टार क्रिकेटर ईशान किशन फिलहाल अपने जन्मभूमि पटना में है। जहां उन्होंने क्रिकेट का ककहरा सीखा था और आज टीम इंडिया में डेब्यू की दावेदारी पेश कर रहे है। आईपीएल के खत्म होने के बाद जब ईशान किशन अपने जन्मभूमि पहुचे तो पटना में ही सम्मान समारोह आयोजित किया गया था जहां आकर वो बेहद इमोशनल दिखे।

इस समारोह के दौरान ईशान किशन का सामना मीडिया से भी हुआ, कई सवाल पूछे गए, किशन ने सभी सवालों का जवाब उसी अंदाज में दिया जो रवैया वह बल्लेबाजी करते हुए मैदान में अपनाते है। ईशान किशन से इस दौरान उनके आक्रमकता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया की मैच के पहले जो कठिन ट्रेनिंग और प्रैक्टिस होती है वहीं से उनके अंदर आक्रामकता आ जाती है।

टीम इंडिया में इंट्री की जताई इच्छा

4ca2bf4a2f87db58dd4032edb4ef4de2 scaled

ईशान किशन से न्यूज 18 को दिए गए इंटरव्यू के दौरान जब उनके अगले टारगेट के बारे में पूछ गया तो उन्होंने बताया की उन्होंने अपना टार्गेट सेट किया है कि वह बहुत जल्द भारतीय टीम का हिस्सा बनें। वही ईशान किशन ने मुंबई इंडियंस के अपने सहयोगी हार्दिक पांडया से किसी भी मैच के बाद मिली सीख को वो बेहद महत्वपूर्ण बताया। इसके अलावा उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी की भी तारीफ की।

महेंद्र सिंह धोनी के बारे में बोलते हुए ईशान किशन ने कहा वह धोनी को अपना आदर्श मानते है। और उन्होंने यह भी इच्छा जताई की वह महेंद्र सिंह धोनी जैसा विकेटकीपर, बल्लेबाज़ और कप्तान बनना चाहते हैं। ईशान किशन ने कहा धोनी भाई में जो धैर्य और हिम्मत के साथ साथ जो लीडरशीप क्वालिटी है उसका कोई जवाब नहीं है।

किशन ने आईपीएल में किया था शानदार प्रदर्शन

ishan kishan 1200x800 1

ईशान किशन के आईपीएल के प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 14 मैचों में 516 रन बनाए। मुंबई के लिए इस साल उन्होंने कुल 4 अर्धशतक लगाए। उनके शानदार प्रदर्शन के बदौलत उनकी टीम ट्रॉफी पर कब्जा जमाने में भी सफल हुई। उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उम्मीद थी की उन्हे जल्द टीम इंडिया में मौका मिला।