Ishan kishan-sanju

भारत-श्रीलंका के बीच जुलाई से तीन मैचों की वनडे सीरीज और इतने ही मुकाबले की टी20 श्रृंखला का आगाज होने वाला है. इसके लिए पूरी टीम विदेशी सरजमीं के लिए उड़ान भर चुकी है. इस बार टीम में ईशान किशन (ishan kishan) समेत कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया गया है. विकेटकीपर के तौर पर टीम में संजू सैमसन (sanju samson) को भी शामिल किया गया है. जो पहले भी टीम इंडिया की ओर से खेल चुके हैं. इस रिपोर्ट में हम आपको ईशान के बारे में बताने जा रहे हैं कि क्यों वो विकेटकीपर के तौर पर सैमसन से बेहतर हैं.

विकेकीपिग के साथ किसी भी नंबर पर कर सकते हैं बल्लेबाजी

ishan kishan

पहली बार उन्हें श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज की टीम में शामिल किया गया है. इससे पहले उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई घरेलू टी20 श्रृंखला में मौका दिया गया था. डेब्यू मुकाबले में ही उन्होंने अर्धशतकीय पारी खेलते हुए प्रशंसकों का दिल जीत लिया था. उन्होंने 2 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले थे. जिसमें 30 की औसत से उन्होंने 60 रन बनाए थे. इस दौरान उन्होंने केएल राहुल के साथ ओपनिंग की थी.

बात करें ईशान किशन (ishan kishan) के संजू सैमसन से बेहतर विकल्प साबित होने के कारण की तो इसके पीछे की बड़ी वजह ये भी है कि, वो विकेटकीपिंग के साथ किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं. वो चाहे मध्यक्रम में हो, ओपनिंग करनी हो या फिर किसी और नंबर पर बल्लेबाजी करनी हो. ऐसा वो आईपीएल में अपनी टीम मुंबई के लिए भी कर चुके हैं. जबकि सैमसन सिर्फ टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी कर सकते हैं. अभी तक उन्हें सिर्फ शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी करते हुए देखा गया है.

बाएं हाथ के कॉम्बिनेशन के तौर पर टीम को बड़ा फायदा

photo 2021 06 28 17 48 07

टीम इंडिया को ईशान किशन (ishan kishan) के तौर पर एक और बड़ा फायदा बाएं हाथ के कॉम्बिनेशन के तौर पर हो सकता है. विकेटकीपिंग के साथ ही वो किसी भी दाएं हाथ के बल्लेबाज के साथ बाएं हाथ के ओपनर बल्लेबाज की भूमिका निभा सकते हैं. भारतीय टीम को अभी तक ऐसा कोई ओपनर बल्लेबाज नहीं मिला था जो धवन के बाद निरंतर बल्लेबाजी कर सके. लेकिन, ये युवा बल्लेबाज टीम इंडिया के लिए शिखर के बाद ओपनिंग के लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है.

घरेलू क्रिकेट में संजू से बेहतर है इस युवा बल्लेबाज का प्रदर्शन

photo 2021 06 28 17 47 57

ओपनिंग करने के साथ ही वो किसी भी स्थान पर खेल सकते हैं. काफी लंबे वक्त से मुंबई टीम में वो अलग-अलग पोजिशन पर खेलते हुए देखे गए हैं. इसके साथ ही उन्होंने विकेटकीपिंग भी की है. इतना ही संजू सैमसन (sanju samson) के साथ इस युवा खिलाड़ी के परफॉर्मेंस की तुलना करें तो घरेलू क्रिकेट फर्स्ट क्लास और लिस्ट ए फॉर्मेट में भी ईशान किशन (ishan kishan) का प्रदर्शन संजू से काफी ज्यादा बेहतरीन है.