IPL 2022
Ishan-Kishan and Virat Kohli

आईपीएल की 5 बार विजेता टीम मुंबई इंडियंस ने मेगा ऑक्शन 2022 में विस्फोटक बल्लेबाज ईशान किशन (Ishan Kishan) को 15.25 करोड़ की ऊंची बोली लगाकर अपनी टीम के साथ जोड़ा. फ्रेंचाइजी को उम्मीद थी कि यह खिलाड़ी इस सीजन में शानदार प्रदर्शन करेगा. लेकिन, ईशान किशन ने इस सीजन में उम्मीदों के बिल्कुल विपरीत प्रदर्शन किया है. वह 11 मैचों में सिर्फ 321 रन ही बना पाए. वहीं ईशान किशन ने अपनी नीलामी को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है.

मेगा ऑक्शन में Ishan Kishan पर हुई थी पैसों की बरसात

Ishan Kishan
Ishan kishan

मेगा ऑक्शन 2022 में ईशान किशन (Ishan kishan) पर फ्रेंचाइजी ने जमकर पैसा लुटाया. उन्हें मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने 15.25 करोड़ रुपये देकर अपने साथ जोड़ा था. उन्हें खरीदने के लिए कई टीमों में बहस देखी गई. जिसका फायदा ईशान को मिला. नीलामी धीरे-धीरे जैसे-जैसे बढ़ रही थी. वैसे-वैसे फैंस काफी खुश नजर आ रहे थे. मेगा ऑक्शन से ठीक पहले लोगों ने जैसा अनुमान लगाया था कि यह खिलाड़ी मेगा ऑक्शन में महंगा बिक सकता है और ऐसा ही देखने को मिला.

इससे पहले भारतीय टीम के पूर्व खिलाडी आकाश चोपड़ा ने भी एक टीवी शो में कहा था IPL 2022 में ईशान किशन पैसों की बरसात हो सकती है. उनकी भविष्यवाणी सच साबित हुई. मुंबई ने अपने पुराने खिलाड़ी ईशान किशन ने 15.25 करोड़ रुपये बैक कर लिया. ईशान किशन (Ishan kishan) को विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है. वो पहले भी मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुके हैं.

महंगा बिकने के बाद दबाव में थे Ishan kishan

ishan kishan
Ishan kishan

खिलाड़ियों की नीलामी के लिए आईपीएल सबसे बड़ा बाजार है. जिसमें खिलाड़ी काबिलियत के आधार पर उनकी कीमत लगाई जाती है. मेगा ऑक्शन 2022 में विस्फोटक बल्लेबाज ईशान किशन (Ishan Kishan) को 15.25 करोड़ में बिके. उसके बाद वह थोड़ा दबाव महसूस कर रहे थे. ऐसा हर खिलाड़ी के साथ होता है. क्योंकि, महंगे बिकने वाले खिलाड़ी से लोगों उम्मीदें अधिक जुड़ जाती है कि वह टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करेगा. वहीं ईशान किशन ने अपनी नीलामी को लेकर बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि,

‘मेगा ऑक्शन में मंहगा बिकने का अहसास शुरू को 1-2 दिन रहता है. सीनियर खिलाड़ियों से बात करना और उन्हें अपनी परेशानी का फायदा मिलता है. विराट, रोहित और हार्दिक भाई ने मुझसे कहा कि तुम इस बारे में ज्यादा मच सोचों. यह पैसा तुमने तोड़ी ना उनसे मांगा. उन्होंने तुम्हारे ऊपर भरोसा जताया. तभी उन्होंने ऐसा किया. कप्तान और कोच ने मुझे नेचुरल गेम खेलने की सलाह दी और कहा 30-40 रनों पर आउट होने से बचते हुए अपनी पारी क बड़े स्कोर में तब्दील करों’