Kangana Ranaut and Irfan Pathan

इजराइल और फिलीस्तीन के बीच एक बार फिर जंग छिड़ गई है, जिसने गंभीर रूप लेना शुरु कर दिया है। इस जंग में कई मासूम बच्चे व बेगुनाह लोगों की मौत की खबरें भी सामने आ रही हैं। इजरायल और फिलीस्तीन के बीच छिड़ी इस जंग को लेकर सोशल मीडिया पर भी माहौल गर्मागर्मी का चल रहा है। इस बीच टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान (Irfan Pathan) व बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के बीच जंग छिड़ती दिख रही है।

फिलीस्तीन के सपोर्ट में उतरे इरफान पठान

जब भी देश दुनिया में ऐसा कोई वाकया सामने आता है, तो सोशल मीडिया पर भी लोग अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते नजर आते हैं। ऐसा ही इस बार भी हो रहा है। ट्विटर पर कुछ लोग फिलीस्तीन का सपोर्ट कर रहे हैं, तो कुछ इजराइल का। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से #Palestine #SaveHumanity को टैग करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने फिलीस्तीन का समर्थन करते हुए लिखा-

यदि आपके पास मानवता की थोड़ी सी भी कमी है तो आप Palestine में जो हो रहा है उसका समर्थन नहीं करेंगे।

कंगना रनौत ने साधा निशाना

Irafan Pathan

पूर्व क्रिकेट द्वारा किया गया पोस्ट बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत व भाजपा विधायक दिनेश चौधरी को रास नहीं आया। विधायक दिनेश चौधरी ने अपने ट्वीट करते हुए लिखा, “इरफान पठान को दूसरे देश से तो इतना लगाव है लेकिन खुद के देश में बंगाल पर ट्वीट नहीं कर पाए।”
विधायक द्वारा किए गए ट्विटर पोस्ट को अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर डालते हुए कंगना रनौत ने इरफान पठान (Irfan Pathan) पर निशाना साधा। दरअसल, कंगना का हाल ही में नफरत फैलाने वाले पोस्ट शेयर करने के चलते ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। इसलिए अभिनेत्री अपनी बात रखने के लिए इंस्टाग्राम का सहारा ले रही हैं।

Irfan Pathan ने दिया मुंहतोड़ जवाब

कंगना रनौत व बीजेपी विधायक दिनेश चौधरी द्वारा Irfan Pathan पर निशाना साधा गया। तो क्रिकेट भी शांत नहीं रहा। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडिल के जरिए कंगना का नाम लेते हुए करारा जवाब दिया और लिखा- “मेरे सभी ट्वीट मानवता या देशवासियों के लिए होते हैं। इसमें उस आदमी का नजरिया होता है जिसने देश का सर्वोच्च स्तर पर प्रतिनिधित्व किया है। वहीं, मुझे कंगना, जिनका अकाउंट नफरत फैलाने की वजह से सस्पेंड कर दिया गया और कुछ ऐसे लोग जिनके पेड अकाउंट से सिर्फ नफरत फैलाई जाती है, से सुनना पड़ता है।”