Siddharth Kaul

आईपीएल खत्म होने के बाद तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कौल रणजी की तैयारी में जुटे हुए हैं। 31 वर्षीय तेज़ गेंदबाज़ यों तो पंजाब के खिलाड़ी हैं पर आईपीएल में वह रॉयल चैलेंजर बैंगलोर की टीम का हिस्सा थे। जहां क्रिकेट में गेंदबाज़ी में अहम भूमिका मैदान और पिच की मानी जाती है पर सिद्धार्थ (Siddharth Kaul) की राय इस पर अलग है। उनका मानना है कि मैदान चाहे छोटा हो या बड़ा, पिच चाहे फ्लैट हो, हमें गेंदबाज़ के तौर पर सिर्फ अपनी परफॉर्मेंस पर ध्यान देना चाहिए। एक गेंदबाज़ और खिलाड़ी को हमेशा खुद पर विश्वास होना ज़रूरी है, वही सबसे अहम है। हमें चुनौतियों को स्वीकार करना सीखना चाहिए, चुनौतियां ही हमें बेहतर बनाती हैं।

वहीं, टीम में सेलेक्शन को लेकर सिद्धार्थ की मानें तो, हमें सिर्फ मेहनत करते रहना चाहिए और अपनी परफार्मेंस पर ध्यान देना चाहिए बाकि सेलेक्टर्स पर छोड़ दें। अगर परफॉर्मेंस बरकरार रहेगी तो सेलेक्शन ज़रूर होगा। हम चाहें मैदान के अंदर हो या बाहर खुद को पॉजिटिव रखना चाहिए। वहीं, IPL में बैंगलोर के साथ खेलने को लेकर सिद्धार्थ कहते हैं कि उन्हें विराट (Virat Kohli) के साथ खेलना हमेशा पसंद है।

IPL के पूरे सीज़न में दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) की परफॉर्मेंस पर वह कहते हैं कि दिनेश कार्तिक ने उन्हें बताया था कि IPL में मैनेजमेंट के हिसाब से खेलें, जिससे यह जानने में आसानी होगी कि मैनेजमेंट और टीम आपसे क्या चाहती है औऱ उनकी मांग के अनुसार अपनी तैयारी करें।

दरअसल, IPL का विश्लेषण करने के लिए बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म, कू ऐप (Koo App) पर ‘क्रिकेट महामंच’ चल रहा हैं। इसमें कई इंटरनेशनल खिलाड़ी अपनी राय देते नजर आ रहे हैं, ऐसे में भारतीय खिलाड़ी सिद्धार्थ कौल ने भी इसमें भाग लिया। यह कार्यक्रम लाइव कू ऐप पर हुआ, जिसमें सिद्धार्थ के साथ चंद्रेश नारायण भी मौजूद रहे।

dolon

बैंगलोर की टीम की बात आने पर सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि टीम कब आईपील का खिताब अपने नाम करेगी क्योंकि आज तक बैंगलोर एक बार भी आईपीएल नहीं जीत पाई है, ऐसे में सिद्धार्थ का मानना है कि 10 महीने बाद यानी अगले सीज़न में बैंगलोर (Royal challengers Bangalore) आईपीएल ज़रूर जीतेगी। सिद्धार्थ ने कहा कोई भी टीम हर मैच नही जी सकती पर बेंगलौर पिछले 4 सालो से टॉप 4 में अपनी जगह बनाती आई है, सबसे जरूरी विल पॉवर है। हमें सकारात्मक सोच के साथ मैदान में उतरना चाहिए। आने वाले सीज़न में हम जरूर ट्रॉफी अपने नाम करेंगे।

आपको बता दें कि सिद्धार्थ दांए हाथ के पेसर हैं जिन्हें साल 2018 में भारत के दौरे के लिए पहली बार टीम इंडिया में चुना गया था। 31 वर्षीय सिद्धार्थ ने अभी तक 3 टी20 और 3 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले हैं।