abhishek nayar 1430553342

आईपीएल एक ऐसी टी-20 लीग है. जिसने कई युवा खिलाड़ियों का करियर चमकाया है. आईपीएल में कई खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं, जो सिर्फ एक मैच में ही अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन कर पाये.

अपने खेले अन्य मैचों में इस खिलाड़ियों का प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा था. आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में ऐसे ही पांच खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे.

पॉल वलथाटी

Screenshot 23 4

आईपीएल 2011 में एक मैच किंग्स इलेवन पंजाब की टीम और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला गया था. इस मैच में चेन्नई ने पहले खेलते हुए पंजाब के सामने 189 रन का विशाल लक्ष्य रखा था.

इस लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब के ओपनर पॉल वलथाटी ने 63 गेंदों पर 120 रन की तूफानी पारी खेल डाली थी. उन्होंने अपनी इस पारी के दौरान 19 चौके व 2 शानदार छक्के लगाये थे. हालाँकि, वह इस एक मैच के बाद कभी आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये.

मनविंदर बिस्ला

Screenshot 22 1

मनविंदर बिस्ला ने आईपीएल 2012 के फाइनल में केकेआर के लिए 48 गेंदों पर 89 रन की शानदार पारी खेली थी और अपनी टीम को आईपीएल 2012 का चैंपियन बनाया था.

मनविंदर बिस्ला ने अपनी इस तूफानी पारी के दौरान 8 चौके व 5 छक्के लगाये थे, लेकिन वह इस पारी के अलावा कभी भी आईपीएल में कुछ ख़ास नहीं कर पाये.

केवन कूपर 

Screenshot 21 3

केवन कूपर ने आईपीएल में अपना ड्रीम डेब्यू किया था. वेस्टइंडीज के केवन कूपर ने आईपीएल 2012 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ पहले बल्ले से 3 गेंद पर 11 रन बना डाले थे.

वहीं इसके बाद उन्होंने अपने 4 ओवर में मात्र 26 रन देकर 4 विकेट लिए थे और राजस्थान की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. उन्हें इस मैच में ‘मैन ऑफ़ द मैच’ के ख़िताब से भी नवाजा गया था, लेकिन इसके बाद से वह कभी भी आईपीएल में अपना यह प्रदर्शन दोहरा नहीं पाये.

अभिषेक नायर 

Screenshot 24 2

आईपीएल 2009 का पहला ही मुकाबला मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला गया था. इस मुकाबले में मुंबई इंडियंस के लिए अभिषेक नायर ने 14 गेंदों पर 35 रन की तूफानी पारी खेलकर सुर्खिया बटोरी थी.

उन्होंने इस मैच में चेन्नई के गेंदबाज एंड्रू फ्लिंटॉफ को लगातार तीन छक्के लगाये थे. हालाँकि, अपनी इस पारी के अलावा वह कभी भी कुछ ख़ास प्रदर्शन आईपीएल में नहीं कर पाये.

कामरान खान 

Screenshot 20 4

कमरान खान ने भी आईपीएल 2009 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए एक मैच के दौरान केकेआर के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की थी.

दरअसल, इस मैच में राजस्थान ने पहले खेलते हुए 150 रन बनाये थे, लेकिन कमरान खान की घातक गेंदबाजी के आगे केकेआर की टीम भी निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 150 रन ही बना पाई और मैच टाई हो गया था.

इस मैच में कमरान खान ने अपने 4 ओवर में मात्र 18 रन खर्च करके कुल 3 विकेट हासिल किये थे. इसके बाद उन्होंने अपनी टीम को सुपर ओवर में भी जीत दिला दी थी. हालाँकि, अपने इस शानदार प्रदर्शन के बाद वह कभी भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे.