आईपीएल कि शुरू हुए 12 साल बीत चुके हैं और फिलहाल 13वां सीजन खेला जा रहा है, आईपीएल के अब तक के इतिहास में कई भारतीय खिलाड़ियों ने आईपीएल में जलवा बिखेरा, वही विदेशी खिलाड़ियों ने भी कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए। विदेशी खिलाड़ियों ने आईपीएल में कई रिकॉर्ड तो ऐसे बनाएं जिसे तोड़ना काफी मुश्किल नजर आता है।

आईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों का धमाल

अगर आईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर नजर डालें तो विदेशी खिलाड़ियों ने कई ऐसे रिकॉर्ड अपने नाम किए, जिसके आसपास अब तक कोई भारतीय भी नहीं पहुंच सका। उदाहरण के तौर पर आईपीएल में किसी खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक स्कोर बनाने का रिकॉर्ड विदेशी क्रिकेटर ब्रैंडन मैकुलम के नाम था, उन्होंने 2008 में बनाया था और इस रिकॉर्ड को कोई भारतीय खिलाड़ी नहीं तोड़ सका, फिर क्रिस गेल ने नाबाद 175 रन की पारी खेलकर यह रिकार्ड अपने नाम किया।

वहीं आईपीएल में सबसे अधिक छक्का लगाने का रिकॉर्ड भी धाकड़ क्रिकेटर क्रिस गेल के नाम है, क्रिस गेल अब तक 126 मैचों में 331 छक्के लगा चुके हैं और एक रिकॉर्ड के आस पास भी कोई भारतीय नजर नहीं आता है।

भारतीय खिलाड़ियों द्वारा इस साल बनाया गया बड़ा रिकॉर्ड

हम आईपीएल में यह नहीं कह सकते कि भारतीय खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया लेकिन एक टीम में जिस तरह से 7 भारतीय और 4 विदेशी क्रिकेटर खेलते हैं, उस हिसाब से विदेशी खिलाड़ियों का प्रदर्शन अब तक काफी बेहतरीन रहा है।

इसी क्रम में इस साल अगर भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर नजर डालें तो बल्लेबाजी में भारत के कई खिलाड़ियों ने जलवा बिखेरा जिसके बदौलत इस साल आईपीएल में भारतीय बल्लेबाजों ने एक ऐसा रिकॉर्ड बना दिया, जो कि पिछले 13 साल में अब तक कभी नहीं बना था।

केएल राहुल, मयंक अग्रवाल और धवन ने किया कारनामा

शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ दिल्ली कैपिटल्स के स्टार क्रिकेटर शिखर धवन के शतक लगाते हैं, भारतीय खिलाड़ियों ने आईपीएल में एक बड़ा रिकॉर्ड बना दिया, जिसके साथ ही इस सीजन तीन लगातार शतक भारतीय खिलाड़ियों के बल्ले से निकले।

इससे पहले किंग्स इलेवन पंजाब के स्टार क्रिकेटर केएल राहुल और मयंक अग्रवाल 1-1 शतक लगा चुके थे, वही शिखर धवन ने चेन्नई के खिलाफ शतक ठोककर भारतीय खिलाड़ियों का यह शानदार रिकॉर्ड बनाया। इससे पहले अब तक भारतीय खिलाड़ी अब तक यह कारनामा नहीं कर पाए थे, उम्मीद है की यह सीजन खत्म होने तक भारतीय खिलाड़ियों से और जबरदस्त रिकार्ड देखने को मिलेंगे।