एस श्रीसंत
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

दुनिया की सबसे अमीर फ्रेंचाइजी लीग IPL दुनियाभर के लिए आकर्षण का केंद्र है। विदेशी खिलाड़ियों से सजी इस लीग का रोमांच हर सीजन के साथ बढ़ता ही जाता है। अब आगामी आईपीएल सीजन का आगाज भी होने ही वाला है, जिसका क्रिकेट फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

वैसे तो ये खेल गेंद व बल्ले के बीच होने वाली टक्कर के लिए पहचाना जाता है। लेकिन इस टूर्नामेंट में कई विवाद जुड़े हुए हैं। यहां तक की खिलाड़ियों की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। तो आइए आपको उन 5 मौकों के बारे में बताते हैं, जब खिलाड़ियों की IPL के दौरान हुई गिरफ्तारी।

    IPL के दौरान गिरफ्तार हो चुके हैं ये खिलाड़ी

1- श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजीत चंडीला

ipl

IPL 2013 एक बहुत ही विवादित सीजन रहा। इस सीजन मुंबई इंडियंस ने अपनी पहली आईपीएल ट्रॉफी जीती। लेकिन दूसरी तरफ कुछ खिलाड़ियों के करियर पर ग्रहण भी लग गया। 2013 में दिल्‍ली पुलिस की विशेष ईकाई ने तेज गेंदबाज एस श्रीसंत और राजस्‍थान रॉयल्‍स के दो क्रिकेटर्स अजित चंडीला व अंकित चव्‍हाण को पांच दिन के लिए पुलिस हिरासत में रखा था।

दिल्‍ली पुलिस तब आईपीएल स्‍पॉट फिक्सिंग की जांच कर रही थी, जिनमें ये तीनों क्रिकेटर्स दोषी पाए गए थे। मुंबई पुलिस ने श्रीसंत को उनके दोस्त के घर से दबोचा, तो वहीं अजीत और अंकित को दिल्ली के एक होटल से हिरासत में लिया गया।

बाद में जांच में सामने आया कि ये तीनों क्रिकेटर्स एक बड़े स्पॉट फिक्सिंग कांड में शामिल थे। श्रीसंत ने टॉवेल से बुकी को संकेत दिए थे। वहीं चंडीला और चव्‍हाण ने प्रति ओवर 60 लाख रुपए में स्‍पॉट फिक्सिंग तय की थी।

2015 में तीनों खिलाड़‍ियों पर से जुर्माना हटा लिया गया। हाल ही में श्रीसंत अपने 7 साल के बैन को पूरा करके केरल की तरफ से घरेलू क्रिकेट में वापसी कर चुके हैं। मगर, इस स्पॉट फिक्सिंग कांड के चलते उनका करियर बर्बाद हो गया, वरना आज शायद वह भारत के सफल तेज गेंदबाजों में से एक होते।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse