IPL Media Rights

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) के आगामी 15वें सीजन का आगाज 26 मार्च से शुरू होने जा रहा है. आईपीएल शुरू होने में अब ज्यादा वक्त नहीं बचा हैं. आईपीएल (IPL 2022 ) के सभी मुकाबले मुंबई और पुणे में खेले जाएंगे. फैंस आगामी सीजन को लेकर बेसब्री से इंतजार रहे हैं. क्योंकि इस साल से टूर्नामेंट में 10 टीमें हिस्सा लेने जा रही हैं और साथ ही मैचों की संख्या बढ़कर 70 चुकी हैं. वही IPL 2022 मीडिया अधिकारों को लेकर बड़ी अपडेट आई हैं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) नए मीडिया अधिकार जारी करने की बात कही है.

BCCI मीडिया अधिकार पर कही ये बात

BCCI will earn 800 crores from IPL 2022

आईपीएल मीडिया राइट्स (IPL Media Rights) हासिल करने के लिए स्टार और डिज्नी इंडिया, सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया, वायकॉम18 और अमेजन इंडिया जैसी धाकड़ कंपनियां तैयारी कर रही हैं. बीसीसीआई (BCCI) मीडिया राइट्स के ऑक्शन के लिए टेंडर डॉक्यूमेंट तैयार कर रहा है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड  ने खुलासा किया है कि वे प्रक्रिया संबंधी मुद्दों के कारण मामूली देरी के बाद, बहुत जल्द इंडियन प्रीमियर लीग (IPl ) के मीडिया अधिकार जारी करेंगे.

क्रिकबज के अनुसार, उन्होंने इस अफवाह का भी खंडन किया है कि मेजबान प्रसारक, स्टार के दबाव के कारण देरी हुई थी. वहीं शीर्ष बोर्ड ने कहा कि स्टार को उनके तुरंत अधिकार जारी करने में कोई समस्या नहीं थी. वे अक्टूबर 2021 में ही बाहर होने वाले थे. लेकिन, इसके लिए अभी तक टेंडर नहीं किया गया है. उन्होंने दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग के अधिकार बेचने में मदद करने के लिए पेशेवर सेवा एजेंसी केपीएमजी (KPMG) से भी मदद मांगी है.

दो नई टीमों से IPL के अधिकार बढ़ने की उम्मीद: BCCI

BCCI-IPL

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) के आगामी 15वें सीजन में इस साल 8 नहीं बल्कि 10 टीमें हिस्सा लेने जा रही है. जिससे के मीडिया अधिकार अधिक बढ़ने की संभावना है. आपको बता दें, पिछली बार स्टार इंडिया ने 16,347 करोड़ से भी अधिक में IPL मीडिया अधिकार खरीदे थे, और इस बार यह आंकड़े ई-नीलामी में कथित तौर पर 50,000 करोड़ के ऊपर पहुंच सकते हैं.

टीमों और खेलों की संख्या में वृद्धि के कारण, मीडिया अधिकार इस बार 20,000 करोड़ से अधिक पहुंचने की उम्मीद है. बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से कहा गया था कि हम बहुत अधिक कीमत की उम्मीद कर रहे हैं. एक आंकड़ा बताना अनुचित होगा. निविदा में कई पक्ष शामिल होंगे और हम पार्टियों से बहुत अधिक रुचि की उम्मीद कर रहे हैं.