IPL 2022 Auction

IPL 2022 Auction: आईपीएल के 15वे सीजन में 2 नयी टीमों के जुड़ने से इस मैगा इवेंट का रोमांच और ज्यादा बढ़ने जा रहा है. आईपीएल 2022 से पहले फरवरी में मेगा ऑक्शन है. जिसके लिए लगभग सारी तैयारी कर ली गयी है. IPL 2022 Auction का आयोजन 11, 12 और 13 फरवरी को बैंगलोर में होना है. ऑक्शन से हुई रिटेनशन प्रणाली में सभी 10 टीमों ने मिलकर कुल 33 खिलाड़ियों को रिटेन किया है. बाकी खिलाड़ियों को ऑक्शन में उतरना होगा. ऐसे में आज हम आपको उन भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताएँगे, जो आईपीएल की सबसे ज्यादा बेस प्राईस (2 करोड़) की लिस्ट में शामिल है.

17 भारतीय खिलाड़ियों का बेस प्राइस है 2 करोड़

IPL 2022 Auction

रिपोर्ट्स की माने तो, 2 करोड़ की बेस प्राइस वाले लिस्ट में 17 भारतीय खिलाड़ी मौजूद हैं. यानी इन खिलाड़ियों के लिए 2 करोड़ से ऊपर की बोली लगेगी. इस लिस्ट में शामिल सभी खिलाड़ियों के बिकने की उम्मीद है. इनमें से कई खिलाड़ियों को काफी अच्छी खासा कीमत मिल सकती है. वही कुछ खिलाड़ी ऐसे भी है, जिन्हें उनके बेस प्राईस के कीमत पर ही खरीदा जा सकता है. भारत के जो खिलाड़ी 2 करोड़ की बेस प्राइस में हैं, उनमें 6 बल्लेबाज, दो विकेटकीपर बल्लेबाज, 3 स्पिनर और 6 तेज गेंदबाज हैं.

दिग्गज खिलाड़ियों से भरी हुई है लिस्ट

IPL 2022 Auction

IPL 2022 Auction में 2 करोड़ रूपये की बेस प्राइस वाले लिस्ट में टीम इंडिया के कई धाकड़ खिलाड़ी मौजूद है. इस लिस्ट में  शिखर धवन (Shikhar Dhawan), श्रेयस अय्यर, रोबिन उथप्पा, देवदत्त पडिक्कल, सुरेश रैना और अंबाती रायुडू के रूप में 6 बल्लेबाज मौजूद है. वही, स्पिन गेंदबाजी विभाग से आर अश्विन, युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) और क्रुणाल पांड्या का नाम है.

तेज गेंदबाजों की लिस्ट में दीपक चाहर (Deepak Chahar), मोहम्मद शमी, शार्दुल ठाकुर, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल और उमेश यादव का नाम शामिल है. जबकि विकेटकीपर की लिस्ट में ईशान किशन (Ishan Kishan) और दिनेश कार्तिक शामिल है.

आईपीएल ऑक्शन में अपना नाम डालने की ये हैं कुछ शर्ते

IPL 2022 Auction

IPL 2022 Auction के लिए 61 कैप्ड इंडियन प्लेयर्स ने रजिस्ट्रेशन किया है, जबकि पहले कभी आईपीएल का हिस्सा रह चुके 143 अनकैप्ड इंडियन प्लेयर्स ने रजिस्ट्रेशन कराया है. वहीं, घरेलू क्रिकेट खेल चुके 692 अनकैप्ड भारतीय खिलाड़ियों ने भी रजिस्ट्रेशन कराया है.  बीसीसीआई सिर्फ उन्हीं खिलाड़ियों को मौका देती है, जिसने कम से कम दो फर्स्ट क्लास या फिर तीन सीमित ओवरों के मैच खेले हों.