IPL

UAE में खेले जाने वाले IPL 2021 के बचे हुए 31 मैचों के दौरान बीसीसीआई ने कोविड-19 को लेकर सख्त नियम बनाए हैं। साथ ही ये बात सामने आई है कि इस दौरान बोर्ड 30 हजार से अधिक आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाएगा। आईपीएल के दूसरे चरण के दौरान हर तीसरे दिन आरटी पीसीआर परीक्षण करवाया जाएगा। पिछली बार जब यूएई में टूर्नामेंट खेला गया था, तब हर पांचवें दिन आरटी पीसीआर परीक्षण किया जा रहा था।

30 हजार से अधिक होंगे RT-PCR टेस्ट

ipl 2021

IPL 2021 के यूएई लेग की शुरुआत 19 सितंबर से होने वाली है। इवेंट को सुरक्षित तरीके से आयोजित करने के लिए बीसीसीआई ने पूरी तैयारी कर ली है। बोर्ड सभी खिलाड़ियों व सहयोगी स्टाफ के कुल मिलाकर 31 मैचों के दौरान 30 हजार से भी अधिक आरटी-पीसीआर टेस्ट होंगे।

दुबई स्थित एक चिकित्सा कंपनी वीपीएस हेल्थकेयर को 19 सितंबर से शुरू होने वाले टूर्नामेंट के लिए खिलाड़ियों की आपात चिकित्सा, खेल चिकित्सा विशेषज्ञ और यहां तक कि एयर एंबुलेंस की सेवाएं मुहैया कराने की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है।

100 लोगों की टीम रखेगी ख्याल

खिलाड़ियों और अन्य लोगों की देखभाल के लिए स्पोर्ट्स मेडिसिन और कोविड-19 मैनेजमेंट के लिए 100 लोगों की टीम बनाई गई है। हर मैच के लिए हर स्टेडियम में डाॅक्टर, नर्स, पैरामेडिक्स और लैब टेक्नीशियन सहित दो मेडिकल की टीमें मौजूद रहेंगी। खिलाड़ियों के आने से पहले दुबई और अबु धाबी के 14 हाेटलों के 750 से अधिक होटल कर्मचारियों को टेस्ट किया गया है। 13 अगस्त से मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ियों का टेस्ट शुरू किया गया। टूर्नामेंट के दौरान हर दिन 2 हजार पीसीआर टेस्ट किए जा सकते हैं।

खिलाड़ी किसी भी तरह की आपात चिकित्सा के लिए आईपीएल के बायो बबल (जैव सुरक्षित वातावरण) बाहर न निकलें, इसके लिए चिकित्साकर्मियों को भी खिलाड़ियों के साथ ही जैव सुरक्षित वातावरण में रखा जाएगा। आईपीएल के दूसरे चरण के दौरान हर तीसरे दिन आरटी पीसीआर टेस्ट करवाया जाएगा। जबकि पिछली बार आईपीएल 2020 के दौरान हर पांचवें दिन कोविड-19 टेस्ट कराया गया था।

खिलाड़ियों के साथ होटल में रहेंगे सपोर्ट स्टाफ

IPL 2021

बीसीसीआई ने IPL 2021 को भारत में ही आयोजित किया था। लेकिन 29 मैचों के बाद बायो बबल में कोविड मामले मिलने लगे और संख्या बढ़ने पर बोर्ड ने टूर्नामेंट को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया था. लेकिन अब 19 सितंबर से यूएई में टूर्नामेंट का आगाज होने वाला है। पिछला सीजन यूएई में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ था।

बायो बबल में किसी तरह की दिक्कत ना हो, इसके लिए सभी मेडिकल स्टाफ को उन्हीं 14 होटल में ठहराया जाएगा, जहां खिलाड़ी रहेंगे। यूएई इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि आईपीएल के तुरंत बाद यहां टी20 वर्ल्ड कप के मुकाबले होने हैं।