karun nair-ipl

आईपीएल 2021 (IPL 2021) की शुरूआत होने में महज चंद दिनों का वक्त बाकी है, और 14वें सीजन से जुड़े पूरे शेड्यूल की लिस्ट जारी हो चुकी है, और खिलाड़ी भी इस साल बल्ले और गेंद से तहलका मचाने के लिए जोरो-शोरों से तैयारी कर रहे हैं. लेकिन सीजन में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं, जिन्हें पूरे टूर्नामेंट में बेंच पर बैठे हुए देखा जा सकता है. इस खास रिपोर्ट के जरिए आज हम एक ऐसे खिलाड़ी की बात करेंगे, जो पहले कप्तानी भी कर चुका है, लेकिन इसके बाद भी इस साल उन्हें प्लेइंग 11 में जगह मिलना मुश्किल है.

14वें सीजन में इस खिलाड़ी का खेलना मुश्किल

IPL 2021

दुनिया की सबसे रोमांचक लीग आईपीएल (IPL 2021) में फैंस ऐसे खिलाड़ियों को देखना पसंद करते हैं, जो बल्ले से धमाल मचाने के साथ ही आक्रामक गेंदबाजी भी करते हैं. लेकिन कई बार कुछ खिलाड़ी इस कदर फ्लॉप होते हैं, जिन्हें फ्रेंचाइजी भी फिर से मौका नहीं देती है. इसमें इस एक खिलाड़ी करूण नायर भी हैं. जिन्हें इस साल टीम की प्लेइंग 11 में जगह मिलना ना के बराबर है.
करूण नायर के इस साल घरेलू टूर्नामेंट में किए गए प्रदर्शन की बात करें तो, उन्होंने कर्नाटक की तरफ से विजय हजारे ट्रॉफी 2021 में कुल 7 मुकाबले खेले थे, जिसमें उनका कुछ खास अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा था. इसके साथ ही उनके सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में किए गए परफॉर्मेंस की बात करें तो, उन्होंने कुल 6 मुकाबले खेले थे, और उसमें उनका बल्लेबाजी औसत बेहद खराब (15.50) रहा था.

पूरे सीजन में बुरी तरह से फ्लॉप रहे करूण नायर

WhatsApp Image 2021 04 03 at 9.50.40 AM

प्रदर्शन के आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि करूण इस सीजन में जगह मिलना मुश्किल है. बीते साल उनके आईपीएल (IPL 2021) प्रदर्शन की बात करें तो, उन्हें साल 2019 में नीलामी के दौरान किंग्स पंजाब ने खरीदा था, हालांकि दोनों ही सीजन में बुरी तरह नायर बुरी तरह से फ्लॉप रहे थे.
साल 2020 में करूण नायर कुल 4 मुकाबलों का हिस्सा थे, और उनकी परफॉर्मेंस बेहद खराब थी. इसके हालांकि उनके लगातार खराब फॉर्म के चलते इस साल पंजाब ने उन्हें रिलीज कर दिया था. 14वें सीजन की नीलामी में उन्हें केकेआर ने 50 लाख रूपये में खरीदा है.

दिल्ली कैपिटल्स के लिए कप्तानी कर चुके हैं करूण नायर, इस साल प्लेइंग 11 में जगह मिलना मुश्किल

WhatsApp Image 2021 04 03 at 9.50.36 AM

दिलचस्प बात तो यह है कि, करूण साल 2017 में दिल्ली कैपिटल्स फ्रेंचाइजी की कप्तानी भी कर चुके हैं. इस सीजन में उन्होंने कुल 14 मुकाबले खेले थे. लेकिन अपनी खराब परफॉर्मेंस के चलते फैंस के दिल में जगह नहीं बना पाए थे. 14 मैच में उनका बल्लेबाजी औसत महज 21.61 का रहा था.
फिलहाल इंडियन प्रीमियर लीग में जिस तरह का उनका प्रदर्शन रहा है, उसके आधार पर यह कहा जा सकता है कि, इस साल कोलकाता नाइट राइडर्स उन्हें आईपीएल (IPL 2021) के दौरान प्लेइंग 11 में खेलने का मौका नहीं देगी. ऐसे में वो पूरे सीजन बेंच पर बैठे हुए दिखाई दे सकते हैं.