IPL 2021-ind vs ENG

कोरोना महामारी के चलते आईपीएल 2021 (IPL 2021) को बीच में ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करना पड़ा है. इस सीजन के 29 मैच हो चुके हैं. लेकिन, बचे हुए बाकी 31 मैच कब-कैसे और कहां आयोजित कराए जाएंगे अभी तक इस विषय को लेकर कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिल पा रही है. हालांकि इस बीच टूर्नामेंट को लेकर एक बार फिर कुछ बड़ी अपडेट्स सामने आ रही है.

आईपीएल 2021 के आयोजन को लेकर आ रही बड़ी खबरें

IPL 2021

स्पोर्ट्स तक के हवाले से आई एक खबर के मुताबिक भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले 5 टेस्ट मैचों को 4 टेस्ट मैच में तब्दील किया जा सकता है. यदि ऐसा होता है तो आईपीएल 2021 (IPL 2021) के पार्ट-2 का आयोजन इंग्लैंड में कराना आसान हो सकता है. आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप खत्म होने के बाद भारत और इंग्लैंड के बीच 4 अगस्त से टेस्ट सीरीज का आगाज होगा जो 14 सितंबर तक खेली जाएगी.

लेकिन, यदि इनमें से 1 टेस्ट मैच को किया जाता है तो यह श्रृंखला 6 सितंबर को ही खत्म हो जाएगी. इस स्थिति में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के बचे हुए 31 मैच को कराने के लिए 8 दिन और मिल जाएंगे. इस रिपोर्ट की माने तो बीसीसीआई और ईसीबी के बीच इस मुद्दो को लेकर चर्चा होनी भी शुरू हो गई है. ऐसे में जल्द ही दोनों इस मसले को लेकर कोई बड़ा निर्णय कर सकती हैं.

ईसीबी और बीसीसीआई ले सकते हैं ये बड़ा फैसला

WhatsApp Image 2021 05 21 at 5.31.41 AM

फिलहाल अभी तक इस तरह की कोई ऑफशियल जानकारी बीसीसीआई और ईसीबी की तरफ से नहीं दी गई है. लेकिन, स्पोर्ट्स तक की रिपोर्ट की माने तो अगर आईपीएल 2021 (IPL 2021) के बचे हुए 31 मुकाबले 10 से 11 सितंबर के बीच शुरू करवाए जाने की योजना बनती है तो सभी मैच सितंबर के अंदर ही संपन्न काए जा सकेंगे.

हालांकि ईसीसी और भारतीय क्रिकेट बोर्ड इसे लेकर क्या फैसला लेते हैं अभी इसके बारे में कुछ भी कह पाना मुश्किल है. क्योंकि इन दिनों भारतीय टीम आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की तैयारी में लगी हुई है. जो इंग्लैंड के साउथम्पटन में न्यूजीलैंड के साथ खेला जाएगा.

बायो बबल में कोरोना की एंट्री की वजह से स्थगित हुआ था टूर्नामेंट

IPL 2021 BCCI 1 2

इस साल आईपीएल 2021 (IPL 2021) की शुरूआत बेहद रोमांचक अंदाज में हुई थी. लेकिन, बायो बबल में हुई कोरोना की अंट्री के बाद कई खिलाड़ी, कोच और सपोर्ट स्टाफ इस वायरस से संक्रमित पाए गए थे. इसी वजह से बीसीसीआई को इस सीजन को बीच में ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने का निर्णय लेना पड़ा.