BCCI-New Working Group

अफगानिस्तान की स्थिति इस वक्त बिलकुल भी अच्छी नहीं है। तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर अपना कब्जा जमा लिया है। राष्ट्रपति भवन पर भी उन्होंने अपना झंडा लहरा दिया है, जिसके बाद राष्ट्रपति अशरफ ने इस्तीफा देते हुए देश छोड़ दिया है। इसके अलावा तमाम लोग अफगानिस्तान छोड़कर जा रहे हैं। इस बीच बीसीसीआई की भी चिंता बढ़ गई है, क्योंकि IPL 2021 में हिस्सा लेने के लिए अफगानी खिलाड़ियों के खेलने पर संदेह की स्थिति बन गई है।

बीसीसीआई की बढ़ी चिंता

IPL 2021

अफगानिस्तान की स्थिति देखकर इस वक्त दुनियाभर के तमाम देश दुखी हैं। वहीं पिछले कुछ सालों में अफगानिस्तान के क्रिकेटर्स ने अपने खेल के स्तर को काफी ऊंचा किया है। परिणाम ये है कि आज वह आगामी टी20 विश्व कप के लिए टॉप-8 टीमों में से एक हैं। इतना ही नहीं राशिद खान सहित कुछ खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर के साथ-साथ विदेशी लीगों में भी जलवे बिखेरे हैं।

मौजूदा समय में अफगानिस्तान के दो खिलाड़ी राशिद खान मोहम्मद नबी व मुजीब-उर-रहमान आईपीएल का हिस्सा हैं और तीमों ही सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते हैं। मगर अब इन दोनों खिलाड़ियों के IPL 2021 के यूएई लेग में हिस्सा लेने पर सवाल खड़े हो गए हैं। इस बीच पता चला है कि नबी व राशिद इस वक्त अफगानिस्तान में नहीं बल्कि इंग्लैंड में ही मौजूद हैं।

भारतीय खिलाड़ियों संग रवाना हो सकते हैं यूएई

IPL 2021

अफगान खिलाड़ी राशिद खान व मोहम्मद नबी मौजूदा समय में इंग्लैंड में ‘द हंड्रेड’ का हिस्सा हैं। लेकिन लीग 21 अगस्त को खत्म हो जाएगी। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या ये दोनों क्रिकेटर वापस अपने देश लौटेंगे या फिर इंग्लैंड में ही रुकेंगे। यदि वह अपने देश लौटते हैं, तो उनका IPL 2021 के यूएई लेग में शामिल होना मुश्किल हो सकता है।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से बात करते हुए कहा, ‘अभी कुछ भी कहने में जल्दबाजी होगी, लेकिन हम नजर रख रहे हैं। हमारे लिए फिलहाल कुछ भी नहीं बदला है और हमें उम्मीद है कि राशिद और अन्य अफगान खिलाड़ी आईपीएल का हिस्सा होंगे।‘

बताते चलें, यदि राशिद और नबी इंग्लैंड में रुकते हैं, तो भारतीय बोर्ड 15 सितंबर को उन्हें टीम इंडिया के साथ चार्टर प्लेन से यूएई ला सकता है।