आईपीएल 2021

आईपीएल 2021 के ऑक्शन को अब सिर्फ कुछ ही वक्त बचा है। ऐसे में क्रिकेट के गलियारों में चारों तरफ आईपीएल की चर्चा चल रही है। सभी फ्रेंचाइजियों ने अब तक पेपर पर आगामी सीजन के लिए अपनी टीम में किन-किन खिलाड़ियों को शामिल करना है उसकी लिस्ट भी बना ली होगी। आगामी सीजन के लिए खिलाड़ियों पर बोली 18 फरवरी को चेन्नई में लगाई जाने वाली है।

18 फरवरी को 292 खिलाड़ियों पर लगेगी बोली

आईपीएल

आईपीएल जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे खिलाड़ियों के दिलों की धकड़ने भी बढ़ती जा रही हैं। आईपीएल 2021 के लिए 18 फरवरी को चेन्नई में खिलाड़ियों पर बोली लगाई जाएगी। इससे पहले सभी फ्रेंचाइजी अपने-अपने रिटेन व रिलीज प्लेयर्स की लिस्ट जारी कर चुकी हैं।

इस ऑक्शन में पहले 1097 खिलाड़ियों ने अपना नाम ड्राफ्ट किया था, लेकिन फ्रेंचाइजियों द्वारा 292 खिलाड़ियों को शॉर्टलिस्ट किया गया। अर्थात् 292 खिलाड़ियों पर 18 फरवरी को बोली लगाई जाएगी। तो आइए ऑक्शन से पहले इस आर्टिकल में आपको उन 6 नियमों से रूबरू कराते हैं, जिनके अंतर्गत होगी आईपीएल 2021 की नीलामी।

6 नियमों के अंतर्गत होगा आईपीएल 2021 का ऑक्शन

1- पर्स में मौजूद पैसों से अधिक नहीं खर्च सकती फ्रेंचाइजी

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के अनुसार सभी फ्रेंचाइजियों को अपनी टीम 85 करोड़ रुपये में तैयार करनी होती है। सभी फ्रेंचाइजियों की पर्स वेल्यू 85 करोड़ होती है। लेकिन मौजूदा वक्त में आईपीएल 2021 मिनी ऑक्शन होने जा रहा है। ऐसे में अब जिस फ्रेंचाइजी के पर्स में जितनी वेल्यू है, उसे उसी के अंदर ही खिलाड़ियों को खरीदना होगा।

चेन्नई सुपर किंग्स (19.9 Cr), दिल्ली कैपिटल (12.9 Cr), किंग्स इलेवन पंजाब (53.2 Cr), कोलकाता नाइट राइडर्स (10.75 Cr), मुंबई इंडियंस (15.35 Cr), राजस्थान रॉयल्स (34.85 Cr) , रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (35.9 Cr), सनराइजर्स हैदराबाद (10.75 Cr)

आईपीएल

2 – प्रत्येक फ्रैंचाइज़ी द्वारा खर्च किया जाने वाला न्यूनतम 75%

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के दूसरे नियम के अनुसार सभी फ्रेंचाइजियों को 85 करोड़ रुपये में से 75 प्रतिशत पैसे खर्च करने ही होते हैं। यदि कोई फ्रेंचाइजी 75 प्रतिशत पैसे नहीं खर्च करती है, तो बोर्ड उस फ्रेंचाइजी के पैसों को जब्त कर लेगा।

3- कोई आरटीएम कार्ड

आप सभी को पता होगा कि आईपीएल के ऑक्शन में खिलाड़ी को बरकरार रखने के लिए फ्रेंचाइजी आरटीएम का इस्तेमाल करती है। लेकिन जैसा की इस बार आईपीएल 2021 में मिनी ऑक्शन होने वाला है, तो फ्रेंचाइजी के पास आरटीएम इस्तेमाल करने का अधिकार नहीं होगा। इसका इस्तेमाल फ्रेंचाइजी सिर्फ मैगा ऑक्शन में ही कर सकती है।

4-स्क्वाड स्ट्रेंथ

नियमों के अनुसार, किसी भी फ्रेंचाइजी में ज्यादा से ज्यादा 25 खिलाड़ी हो सकते हैं और कम से कम 18 खिलाड़ियों को शामिल कर सकती है।

आईपीएल

5- कैप्ड और अनकैप्ड खिलाड़ी

एक टीम में कम से कम 17 और अधिकतम 25 भारतीय खिलाड़ी हो सकते हैं, इसमें कैप्ड और अनकैप्ड दोनों खिलाड़ी शामिल रहते हैं।

6- अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी

एक फ्रेंचाइजी में ज्यादा से ज्यादा आठ विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं।