AI 8465

दिल्ली कैपिटल्स की गाड़ी आईपीएल 2020 में पटरी से उतर गई है. एक सप्ताह पहले तक या दूसरे नंबर पर रह टीम पॉइंट्स टेबल में पहले या दूसरे नंबर पर रह सकती है. अब टॉप-2 का सामना दिल्ली से दूर होता दिख रहा है. सनराइजर्स हैदराबाद की ने मंगलवार को करो या मरो के मुकाबलें में दिल्ली कैपिटल्स को 88 रन से हराया. यह दिल्ली की टूर्नामेंट में लगातार तीसरी हार है.

सनराइजर्स हैदराबाद ने मारी बाजी

AI 9085

इंडियन प्रीमियर लीग-2020 में मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद का मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स से हुआ. हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 2 विकेट पर 219 रन बनाए. जवाब में दिल्ली कैपिटल्स की टीम 131 रन बनाकर ऑलआउट हो गई.

सनराइजर्स की ओर से रिद्धिमान साहा ने सबसे अधिक रन बनाए. उन्होंने कप्तान डेविड वार्नर के साथ ओपनिंग करते हुए 45 गेंद पर 87 रन की खेली. वार्नर ने भी 34 गेंद पर 66 रन बनाए. मनीष पांडे 31 गेंद पर 44 रन बनाकर नाबाद रहे.

श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स का प्रदर्शन इस मुकाबलें में कुछ खास नहीं रहा. लेकिन दिल्ली की ओर से सिर्फ से सिर्फ ऋषभ पंत 36 गेंद पर 30 रन बनाए. इस सीजन में अभी तक अच्छा प्रदर्शन करने वाली दिल्ली कैपिटल्स टीम पिछले कुछ मुकाबलें से अच्छा नहीं कर रही हैं.

दिल्ली कैपिटल्स की पांचवी हार

AI 933800

आईपीएल के इस सीजन में दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस, ये वो दो टीमें थी. जिन्हें आईपीएल के इस सीजन में सबसे पहले प्लेऑफ में क्वालीफाई करते हुए देखा जा रहा था. लेकिन पिछले कुछ मुकाबलें से दिल्ली कैपिटल्स की टीम बैक फूट पर नज़र आ रही है.

दिल्ली कैपिटल्स की यह 12 मैचों में लगातार तीसरी और कुल मिलाकर पांचवीं हार है. उसके सात जीत से अंक हैं. मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के भी 14-14 अंक हैं. वही इस सीजन आरसीबी की टीम बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है.

दिल्ली रनरेट में पीछे होने के कारण पॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर है. दिल्ली कैपिटल्स के अब दो और मुंबई इंडियंस के अब दो और मुंबई व बैंगलोर के तीन-तीन लीग मैच बाकी हैं. तो इस स्थिति दिल्ली कैपिटल्स अपने बाकी के दोनों के मैच जीतने की पूरी कोशिश करेगी.

आईपीएल के इस सीजन में दिल्ली कैपिटल्स का रास्ता ज्यादा मुश्किल

AI 9345

अब दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर के एक बराबर अंक हैं. लेकिन दिल्ली टॉप-2 की रेस में पिछड़ गई है. इसके तीन कारण हैं. पहला, वह मुंबई और बैंगलोर के मुकाबलें एक लीग मैच ज्यादा खेल चुकी है. दूसरा, उसका मुकाबला अब इन्हीं दो टीमों से है, जो टूर्नामेंट की सबसे मजबूत टीमें हैं. तीसरा, वह लगातार तीन मैच हार चुकी है, जो उसके लय खोने का संकेत है. ऐसे में उसके लिए दोनों मैच जीतना आसान नहीं होगा.