धोनी

आईपीएल 2020 में अब तक चेन्नई सुपर किंग्स का सफर कुछ खास अच्छा नहीं रहा है। टीम लय पकड़ती है, फिर खो जाती है। शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ खेले गए मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने 37 रनों से मैच को गंवा दिया। इस मैच में चेन्नई की टीम की गेंदबाजी इकाई ने तो अच्छा किया, लेकिन बल्लेबाजी इकाई का प्रदर्शन निराशाजनक रहा।

हार के बावजूद धोनी ने गेंदबाजों की तारीफ

AI 3513

चेन्नई सुपर किंग्स ने शनिवार को विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ खेले गए मैच में निराशाजनक प्रदर्शन किया और 10 रनों से मैच को गंवा दिया। हालांकि इस मैच में गेंदबाजों ने आरसीबी के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया, मगर कप्तान विराट कोहली ने 16-20 ओवर के बीच जमकर रन बटोरे। मैच खत्म होने के बाद चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टीम के गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा,

“मुझे लगता है कि जब हम गेंदबाजी कर रहे थे, तो आखिरी 4 ओवरों में गेंदबाजों की पिटाई हुई, इससे पहले गेंदबाजों ने अच्छा काम किया, हमें अच्छी तरह पारी को आगे बढ़ाने की जरूरत थी।”

बल्लेबाजी इकाई पर देना होगा ध्यान

धोनी

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में एक से बढ़कर एक मैच विनर खिलाड़ी हैं। अनुभवी बल्लेबाज किसी भी ओवर में मैच पलटने की काबिलियत रखते हैं। मगर पिछले कुछ मैचों में यदि बल्लेबाजों पर गौर करें, तो उन्होंने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। खासकर निचले क्रम के बल्लेबाजों ने, कप्तान को काफी निराश किया है। मैच खत्म होने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा,

“बल्लेबाजी एक चिंता का विषय रहा है और आज भी यह स्पष्ट है। हमें इसके बारे में कुछ करने की जरूरत है। हम इसे इसी तरह आगे नहीं बढ़ा सकते हैं और यह लगभग एक ही बात है कि शायद खिलाड़ी अलग हैं लेकिन मुझे लगता है कि हम दूसरे तरीके से खेलने से बेहतर हैं। बड़े शॉट खेलें और भले ही आप आउट हो जाएं, क्योंकि हम ठीक हैं 15 वें या 16 वें ओवर के बाद बहुत ज्यादा गेंदों को नहीं छोड़ सकते हैं, बस निचले क्रम के बल्लेबाजों पर बहुत अधिक दबाव डालते हैं।”