आईपीएल ऑक्शन
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

आईपीएल 2021 की नीलामी की तैयारियां चल रही हैं। 18 फरवरी को चेन्नई में खिलाड़ियों पर बोली लगेगी। वैसे तो ये मिनी ऑक्शन है, लेकिन कई फ्रेंचाइजियों ने अपनी टीम के बड़े-बड़े खिलाड़ियों को रिलीज कर नीलामी का रास्ता दिखा दिया है।

चेन्नई ने हरभजन सिंह, पीयूष चावला सहित 6 खिलाड़ी रिलीज किए हैं। तो वहीं राजस्थान रॉयल्स ने कप्तान स्टीव स्मिथ को ही रिलीज कर दिया है। आरसीबी ने क्रिस मॉरिस-आरोन फिंच को नीलामी में पहुंच दिया है। ये तो चंद नाम हैं और भी कई बड़े-बड़े खिलाड़ी ऑक्शन में नजर आने वाले हैं।

मगर कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हैं जिन्हें आगामी आईपीएल ऑक्शन में नीलामी के लिए अपना नाम ड्रॉफ्ट नहीं करना चाहिए, क्योंकि इस बात की गुंजाइश बहुत ही कम है कि उन्हें कोई खरीददार मिले। तो आइए इस आर्टिकल में आपको उन 3 अनुभवी खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं, जिनका इस आईपीएल ऑक्शन नाम ना देना ही सही फैसला होगा।

3 खिलाड़ियों को आईपीएल 2021 ऑक्शन में नहीं देना चाहिए नाम

1- हरभजन सिंह

हरभजन सिंह

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2021 की नीलामी से पहले ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को रिलीज कर नीलामी का रास्ता दिखाया है। दरअसल, भज्जी ने पिछले आईपीएल सीजन में निजी कारणों के चलते टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया था और इस सीजन फ्रेंचाइजी ने उनपर भरोसा नहीं जताया।

मगर अब भज्जी को आगामी ऑक्शन में अपना नाम ड्रॉफ्ट करने का फैसले पर विचार कर करना चाहिए। जी हां, हरभजन सिंह यदि इस बार आईपीएल ऑक्शन में अपना नाम ड्रॉफ्ट करते हैं, तो बहुत कम उम्मीद है कि उन्हें कोई खरीददार मिले।

वह 40 साल के हो चुके हैं और कोई भी फ्रेंचाइजी  नीलामी में उपलब्ध अनुभवी मगर थोड़े कम उम्र के खिलाड़ी को टीम में शामिल करना चाहेगी, ताकि वह अगले कुछ सीजनों में टीम का प्रतिनिधित्व कर सके। ऐसे में उनका आईपीएल ऑक्शन में अपना नाम ना देना ही सही फैसला होगा, वरना अनसोल्ड रहने पर खामखां ट्रोलिंग का सामना करना पड़ सकता है। बताते चलें, भज्जी ने 160 मैचों में 150 विकेट हासिल किए हैं।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse