क्रिकेट

आईपीएल 2021 का ऑक्शन बहुत ही रोमांचक रहा। फ्रेंचाइजियों ने अपनी-अपनी टीमों के अनुसार खिलाड़ियों पर कुल 145.30 करोड़ रुपये की बोली लगाई और 59 खिलाड़ी खरीदे। इस ऑक्शन में वैसे तो 1097 खिलाड़ियों ने अपने नाम ड्राफ्ट किए थे, लेकिन 292 खिलाड़ियों को बोली लगाने के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया था। इस आर्टिकल में आपको ऐसे खिलाड़ी के बारे में बता रहे हैं, जिसे शॉर्टलिस्ट नहीं किया गया था और वह घरेलू क्रिकेट में अपनी फॉर्म से सभी को हैरान कर रहा है।

आईपीएल में किया गया था नजरअंदाज

आईपीएल

आईपीएल 2021 के लिए 18 फरवरी को चेन्नई में नीलामी का आयोजन हुआ। इस ऑक्शन के लिए विश्व भर के 1097 खिलाड़ियों ने अपना नाम ड्राफ्ट किया था। लेकिन 292 खिलाड़ियों को बोली लगाने के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया। ऑक्शन में फ्रेंचाइजियों ने 59 खिलाड़ियों पर 145.30 करोड़ रुपये खर्च किए।
ऐसे में ना जाने कितने ही युवा खिलाड़ियों के आईपीएल में हिस्सा लेने के सपने चूर हो गए। हालांकि इस बात में कोई शक नहीं है कि यदि खिलाड़ी में टैलेंट हो, तो वह आगे बढ़ने का रास्ता तलाश ही लेता है। तो अब उम्मीद करेंगे कि उत्तर प्रदेश के लिए गेंदबाजी कर रहे शिवम शर्मा भी आगे बढ़ेंगे और आने वाले सीजनों में आईपीएल खेलते नजर आएंगे।

शिवम शर्मा ने 5 मैच में चटकाए 18 विकेट

भारत के घरेलू टूर्नामेंट विजय हजारे में बड़े-बड़े खिलाड़ी तो शानदार प्रदर्शन कर ही रहे है। लेकिन दूसरी तरफ युवा खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। जिन खिलाड़ियों ने आजकल घरेलू क्रिकेट में धूम मचा रखी है, उनमें से एक हैं उत्तर प्रदेश के शिवम शर्मा।
इस ऑर्थोडॉक्स स्पिनर ने अब तक उत्तर प्रदेश के लिए विजय हजारे टूर्नामेंट में 5 मैच खेले हैं, जिसमें 11.88 के औसत व 4.53 की इकोनॉमी के साथ 18 विकेट अपने नाम किए हैं। ये गेंदबाज लगातार अपनी टीम के लिए अच्छी गेंदबाजी कर रहा है।

उत्तर प्रदेश ने जीते हैं दो मैच

आईपीएल

भुवनेश्वर कुमार की कप्तानी वाली उत्तर प्रदेश की टीम ने अब तक विजय हजारे टूर्नामेंट में 4 मैचों में से 2 में जीत दर्ज की है और टीम को 2 में हार का सामना करना पड़ा है। इस तरह ग्रुप C की ये टीम प्वॉइंट्स टेबल में तीसरे स्थान पर मौजूद है।

हालांकि इस बीच टीम इंडिया के लिए अच्छी खबर ये है कि स्टार तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार पूरी तरह फिट हो चुके हैं और घरेलू सर्किट में ना केवल गेंद से बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं।