T20I
SOUTHAMPTON, ENGLAND - AUGUST 12: Joe Root of England(L) and Chris Silverwood, Head Coach of England(R) speak during an England Nets Session at the Ageas Bowl on August 12, 2020 in Southampton, England. (Photo by Stu Forster/Getty Images for ECB)

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच की पिच की कई दिग्गज खिलाड़ी आलोचना कर चुके हैं। दरअसल, 1935 के बाद पहला कोई ऐसा टेस्ट मैच था, जो सिर्फ 2 दिन की अवधि में ही खत्म हो गया। भारत व इंग्लैंड दोनों ही टीमों ने बल्लेबाजी करते वक्त काफी स्ट्रगल किया। अब क्रिस सिल्वरवुड ने उन सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है, जिसमें कहा जा रहा था कि मोटेरा की पिच को लेकर इंग्लैंड आईसीसी से शिकायत करेगा।

भारत ने अच्छी क्रिकेट खेली और जीता मैच

इंग्लैंड टेस्ट सीरीज

इंग्लैंड के साथ खेले गए सीरीज के तीसरे मैच को भारत ने 10 विकेट से जीतकर अपने नाम किया। इंग्लिश कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी थी, मगर उनकी टीम भारतीय स्पिनर्स के सामने घुटने टेकती नजर आई। तो वहीं भारतीय बल्लेबाज भी मैच में कुछ खास नहीं कर सके। हालांकि कप्तान जो रूट का मानना है कि भारत ने उनसे अच्छी क्रिकेट खेली और जीत दर्ज की। वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा,

‘‘पहली बात तो जो रूट ने जो कल कहा कि उन्हें आठ रन देकर पांच विकेट मिल गये लेकिन साथ ही पिच ने जो कुछ किया या नहीं किया, भारत निश्चित रूप से उसी सतह पर हमसे बेहतर खेला, शायद हम ऐसी मुश्किलों में फंस गये जिसका हमारे खिलाड़ियों ने पहले अनुभव नहीं किया था। हमें उम्मीद थी कि विकेट थोड़ा और देर तक अच्छा रहेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ।’’

इंग्लैंड नहीं करेगा शिकायत

इस मैच के बाद से ही पिच को लेकर काफी सवाल उठ रहे थे और माना जा रहा है कि जो इंग्लैंड की टीम पिच को लेकर आईसीसी से शिकायत कर सकते हैं। मगर अब टीम के कोच क्रिस सिल्वरवुड ने इन सभी अटकलों पर फुल स्टॉप लगा दिया। यह पूछने पर कि इंग्लैंड आईसीसी के समक्ष अधिकारिक शिकायत दर्ज करेगा तो सिल्वरवुड ने कहा,

‘‘देखिए, हम निश्चित रूप से कुछ चीजों के बारे में चर्चा कर रहे हैं, लेकिन साथ ही, हम वास्तव में इस बात से भी निराश थे कि हम हार गये और मैच के तीन दिन बचे थे। लेकिन दुर्भाग्य से मैच खत्म हो गया। इसलिए मेरे विचार से अब हम अगले मैच की ओर बढ़ रहे हैं और हम इसकी भरपायी किस तरह करते हैं। हम इसके लिये सुनिश्चित कर सकते हैं कि हम चुनौती पेश करते हुए श्रृंखला को ड्रा कराएं।’’

पहली पारी में था अच्छा करने का मौका

जो रूट

इंग्लैंड ने अहमदाबाद में खेले गए पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड की ओर से जैक क्रॉली 53 रनों की पारी को छोड़ दिया जाए, तो इंग्लैंड की तरफ से कोई भी बड़ी पारी नहीं खेल सके। यह पूछने पर कि क्या चर्चाएं चल रही हैं तो कोच ने कहा,

‘‘हमने जवागल (श्रीनाथ, मैच रैफरी) से बात की है लेकिन यह पिच के बारे में नहीं थी। मुझे लगता है कि जो (रूट) और मैं इसके बारे में सचमुच बात करेंगे और देखेंगे कि यह कैसी रहती हैं। हमें स्वीकार करना होगा कि हमें इन पिचों पर बेहतर होना होगा, ऐसी चीजें हैं जिसमें हम सुधार कर सकते हैं। आप पहली पारी को देखिये, हमारे पास ज्यादा रन बनाने और इस पिच का बेहतर तरीके से इस्तेमाल करने का मौका था।’’