टी-20 सीरीज के समाप्त होने के बाद अब भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला का आगाज होने जा रहा हैं. टेस्ट सीरीज के शुरू होने से पहले ही भारतीय टीम को श्रृंखला जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा हैं. दोनों देशों के बीच सबसे पहला टेस्ट बुधवार, 2 अक्टूबर को विशाखापत्तनम के मैदान पर खेला जाएगा.

इस टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले क्रिकेट बाजार में यही बात चल रही हैं, कि विशाखापत्तनम में किन ग्यारह खिलाड़ियों के साथ विराट कोहली मैदान पर उतर सकते हैं. क्या कप्तान साहब छह-पांच के संयोजन के साथ मैदान पर उतरेंगे या सात-चार के साथ… हर जगह यही चर्चा हो रही हैं.

आज इस लेख के जरिये हम आपको उन ग्यारह खिलाड़ियों के नाम बताने जा रहे है, जिनको दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच की अंतिम एकादश में मौका दिया जा सकता हैं.

आइए डालते है, एक नजर टीम इंडिया की संभावित XI पर :

सलामी बल्लेबाज

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया के लिए पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी रोहित शर्मा और मयंक अगरवाल के कंधो पर रहेगी. रोहित शर्मा जहां पहली बार टेस्ट में ओपन करते नजर आएंगे, तो मयंक अगरवाल के पास भी अपनी खोई हुई फॉर्म को हासिल करने का मौका रहेगा.

साल 2013 में अपने टेस्ट करियर का आगाज करने वाले रोहित शर्मा अभी तक इस प्रारूप में अपनी जगह पक्की नहीं कर सके है, ऐसे में बतौर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के पास खुद को साबित करने का यह सबसे शानदार और बढ़िया अवसर हो सकता है. हालाँकि अभ्यास मैच में वह बिना खाता खोले आउट हो गये थे.

वही मयंक अगरवाल की बात करे, तो वेस्टइंडीज दौरे पर उन्होंने 5, 16, 55 और 4 के स्कोर किये थे. लोकेश राहुल को टीम से ड्रॉप करने के बाद अब मयंक अगरवाल पर भी बड़े स्कोर करने का दबाव बढ़ गया है.


ऐसा रहेगा मिडिल ऑर्डर 

(Photo by / Getty Images)

विशाखापत्तनम में भारतीय टीम के मिडिल ऑर्डर की जिम्मेदारी अनुभवी खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा, कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे सँभालते हुए नजर आएंगे. ऑस्ट्रेलियाई दौरे के हीरो रहे चेतेश्वर पुजारा का बल्ला विंडीज दौरे पर एकदम खामोश रहा था और वह 15 की औसत से मात्र 60 रन ही बना सके थे. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पुजारा जरुर बड़ी पारियां खेलने के लिए बेताब रहेगे.

कप्तान विराट कोहली की बात करे तो कोहली बहुत ही शानदार फॉर्म से गुजर रहे हैं. विश्व कप के बाद उन्होंने वेस्टइंडीज दौरे पर काफी रन बनाये थे और उसके बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 मैच में भी उनके बल्ले से रन निकले थे. अब घरेलू टेस्ट सीरीज में भी सभी की नजरें उन पर गड़ी रहेगी.

अजिंक्य रहाणे की बात की जाये तो वेस्टइंडीज दौरे पर भारतीय टेस्ट उपकप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी थे. कैरेबियाई दौरे पर रहाणे 81, 102, 64* और 24 रनों की बढ़िया पारियां खेलने में सफल रहे थे. अब इस श्रृंखला में भी अजिंक्य रहाणे से काफी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही हैं.


नंबर 6 और विकेटकीपर 

नंबर 6 के बल्लेबाज के रूप में हनुमा विहारी और विकेटकीपर खिलाड़ी के रूप में रिद्धिमान साहा को अंतिम ग्यारह का हिस्सा बनाया जा सकता हैं. बात अगर हनुमा विहारी की करे, तो कैरेबियाई दौरे पर विहारी सबसे ज्यादा रन बनाने में सफल रहे थे. लगभग 97 की औसत के साथ हनुमा विहारी के बल्ले से 289 रन आये थे. विशाखापत्तनम में हुनमा विहारी बल्ले के साथ साथ गेंद से भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं.

विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में ऋषभ पंत के स्थान पर रिद्धिमान साहा को मौका दिया जा सकता हैं. ऋषभ पंत पिछले काफी समय फ्लॉप चल रहे हैं और ऐसे में साहा को अंतिम XI में जगह मिल सकती हैं. रिद्धिमान साहा ने हाल में ही इंडिया ए और घरेलू क्रिकेट में इंजरी के बाद अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान भी खींचा हैं.


स्पिन जोड़ी पर रहेगा दारोमदार 

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ स्पिन गेंदबाजी की भागदौड़ रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा सँभालते नजर आएंगे. वेस्टइंडीज दौरे पर आर अश्विन को अंतिम ग्यारह से बाहर रखा गया बता, लेकिन घरेलू टेस्ट सीरीज में कप्तान विराट कोहली उनको बाहर रखने के बारे में बिलकुल नहीं सोच सकते. रवि अश्विन अपनी गेंदबाजी के साथ साथ बल्लेबाजी में भी अफ्रीकी टीम के लिए परेशनियाँ खड़ी कर सकते हैं.

रविचंद्रन अश्विन के जोड़ीदार गेंदबाज के रूप में रविंद्र जडेजा को अंतिम एकादश में देखा जा सकता हैं. बीते लंबे समय से रविंद्र जडेजा ने टेस्ट क्रिकेट में कमाल की गेंदबाजी के साथ साथ बल्लेबाजी से भी सभी को खासा प्रभावित किया हैं. वेस्टइंडीज के खिलाफ भी वह 6 विकेट लेने के साथ साथ 75 रन बनाने में सफल रहे थे. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वह जरुर दमदार खेल दिखाना चाहेंगे.


ये रहेगे तेज गेंदबाज 

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में टीम इंडिया की तेज गेंदबाजी की जिम्मेदारी अनुभवी इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी सँभालते नजर आएंगे. इशांत शर्मा की बात की जाये, तो वेस्टइंडीज दौरे पर शर्मा जी ने अपने प्रदर्शन से सभी को खासा प्रभावित किया था. जसप्रीत बुमराह के बाद वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज रहे थे. अब दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध भी इशांत जरुर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए बेताब रहेगे.

जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में इशांत शर्मा के जोड़ीदार के रूप में मोहम्मद शमी नजर आएंगे. विंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों में शमी के खाते में 9 विकेट आई थी और पिछले काफी समय से उनका प्रदर्शन भी काफी सराहनीय देखने को मिला हैं. साउथ अफ्रीका के विरुद्ध भी मोहम्मद शमी अपनी शानदार लय को बरकरार रखना चाहेगे.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *