image by: twitter

सीमित ओवर में टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित शर्मा का ऐसा मानना है कि टीम को अगले तीन वर्षों में कम से कम दो विश्व कप जीतने चाहिए. आप सभी को बता दे, कि इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप खेला जाएगा, जबकि अगले वर्ष 2021 में भारतीय टीम टी20 विश्व कप की मेजबानी करेगी और साल 2023 का एकदिवसीय विश्व कप भी भारतीय सरजमीं पर ही खेला जाएंगा.  

हालाँकि कोरोना वायरस के चलते इस साल खेले जाने वाले टी20 विश्व कप पर अभी संकट के बादल लगातार मंडरा रहे है.

2013 के बाद से नहीं जीता आईसीसी टूर्नामेंट

भारत

भारतीय क्रिकेट टीम 2013 में खेली गयी चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से एक भी आईसीसी खिताब अपने नाम करने में असफल रही. 2016 के टी20 विश्व कप में टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया, जबकि 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी में टीम इंडिया रनर अप रही. पिछले साल खेले गये वनडे विश्व कप में भी विराट एंड कंपनी सेमीफाइनल से आगे नहीं जा सकी थी.  

इससे पहले साल 2014 के टी20 विश्व कप फाइनल और 2015 के वनडे विश्व कप के सेमीफाइनल में भारतीय टीम को हार का मुहं देखना पड़ा था. इसी बात में कोई शक नहीं है, कि बीते सभी आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में टीम इंडिया ने काबिले तारीफ खेल दिखाया, लेकिन टीम सबसे जरुरी मुकाबलों में ही हार गयी.

इस बीच, रोहित का मानना ​​है कि भारत को विश्व कप में उस तरह की टीम के साथ सफलता हासिल करनी चाहिए जिस तरह की टीम उनके पास है.

क्या कहते है हिटमैन

रोहित ने कहा कि विश्व कप जीतने का उत्साह पूरी तरह से अलग है और वह टीम के लिए यह लक्ष्य हासिल करना चाहते हैं. रोहित ने सुरेश रैना के साथ एक इंस्टाग्राम लाइव सत्र के दौरान कहा,

“विश्व कप जीतना आसान नहीं है, जब आप उस टूर्नामेंट को जीतते हैं तो पूरी तरह से एक अलग भावना होती है. उस टूर्नामेंट के लिए भावनाएं और भावनाएं होती हैं. सात-आठ टीमों को हराना और विश्व कप फाइनल जीतना मुश्किल होता है. लेकिन जब आप विश्व कप जीतना आपकी खुशी को दोगुना कर देता है.

“मुझे लगता है कि हमारे पास तीन विश्व कप, दो टी 20 विश्व कप और एक 50 से अधिक विश्व कप हैं, और मैंने कई बार कहा है कि हमें कम से कम दो विश्व कप जीतने चाहिए.”

2019 के विश्व कप में रोहित ने मचाया था धमाल

रोहित

दूसरी ओर, रोहित शर्मा 2019 विश्व कप में बेहद ही शानदार खेल दिखाया था. सलामी बल्लेबाज ने टूर्नामेंट में 81 के औसत और 98 के स्ट्राइक रेट के साथ सबसे ज्यादा 648 रन बनाए थे. दायें हाथ के बल्लेबाज ने प्रतियोगिता में पांच शतक बनाए, जो विश्व कप के किसी एक संस्करण में किसी भी बल्लेबाज के लिए सबसे अधिक है.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...