PN 2135

क्रिकेट जगत में सबसे लोकप्रिय टी20 क्रिकेट लीग आईपीएल के 13वें सीजन का आगाज हो चुका है. खिलाड़ियों से लेकर उसके फैंस में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है. आईपीएल हमेशा से एक ऐसा बेहतरीन मंच रहा है, जहां से कई युवा खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिभा के दम पर सभी का दिल जीत लिया है. इसी बात को पंजाब की टीम के एक युवा खिलाड़ी ने कुछ ऐसा किया कि आज जीत रहा है सबका दिल.

आईपीएल डेब्यू मैच में चमके रवि विश्नोई

ravi bishnoi icc com

वैसे भी अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्डकप 2020 में सबसे अधिक विकेट लेने बाले 20 वर्षीय युवा स्पिनर पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं. उनकी टीम और क्रिकेट फैंस को उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है. जो उन्होंने सीजन के दूसरे मैच किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स के बीच हुए मुकाबले में खुद को साबित करके दिखाया.

उन्होंने अपने प्रदर्शन पर भारत के दिग्गज स्पिनर रहे अनिल कुंबले को ताली बजाने पर मजबूर कर दिया, जो उनकी टीम के कोच भी हैं. उन्होंने अपने पहले आईपीएल मैच में धुरंधर बल्लेबाज ऋषभ पंत को चकमा देकर बोल्ड कर दिया था. डेब्यू मैच में उनके स्पिन का जादू देखने को मिला.

रवि ने 4 ओवर में 22 रन देकर 1 विकेट चटकाया था. वह अपने क्रिकेट करियर में कई बार रिजेक्ट हुए, लेकिन हिम्मत नही हारी और हौसला बनाए रखा. जिसका फल भी उन्हें मिला. आईपीएल नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब ने उनकी बेस प्राइस 20 लाख से 10 गुना अधिक उन्हें 2 करोड़ में ख़रीदा.

खुद तैयार की थी पिच और अब दिखा रहे हैं अपना शानदार प्रदर्शन

IPL 2020: Kings XI Punjab's Ravi Bishnoi Talked About the Learnings From Head Coach Anil Kumble

रवि विश्नोई एक समय के बाद खुद अकादमी बनाने का फैसला लिया. उन्होंने अपने कोच प्रघोत सिंह और शाहरुख़ पठान की मदद से अकादमी शुरू की. उनके दोस्तों ने भी उनका साथ दिया. अकादमी बनाने के लिए ज्यादा पैसे नहीं थे

तो ऐसे में उन्होंने खुद पिच तैयार करने के लिए रोलर भी चलाया. मैदान पर घास भी लगाई. रवि अपने पिछले दिनों को याद करते हुए कहते हैं कि संघर्ष का दौर था. रवि विश्नोई ने अपने करियर की शुरुआत एक तेज़ गेंदबाज के तौर की थी. लेकिन कोच के समझाने के बाद, वो स्पिन गेंदबाजी करने लगे.

उन्होंने टीम इंडिया के अंडर-19 का हिस्सा बनने के लिए काफी मेहनत लेकिन उन्हें कई बार हार का सामना करना पड़ा. पिता ने जब उन्हें रिजेक्ट होते और टूटते हुए देखा, तो उन्होंने क्रिकेट छोड़ने के लिए भी कहा. लेकिन उनके कोच ने उनके पिता को समझाया और उनपर मेहनत की. 2018 में 12वीं की परीछा छोड़ दी और इसी साल उन्हें आईपीएल में राजस्थान  रॉयल्स के लिए नेट बल्लिंग करने का अवसर मिला.

शेन वार्न को मानते हैं अपना आदर्श

Warne 1024x683 1

दिसम्बर 2019 में इन्हें 2020 में हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में चुना गया. जहां रवि विश्नोई ने सबसे अधिक 17 विकेट हासिल कर अपना लोहा हर किसी को मनवाया. आईपीएल के 13वें सीजन में अपनी स्पिन गेंदबाजी से सबको प्रभावित करने वाले रवि विश्नोई ने गॉड ऑफ़ लेग स्पिन का खिताब अपने आदर्श शेन वार्न को दिया है. वही राशिद खान और युजवेंद्र चहल की गेंदबाजी को देखते हुए सीख रहे हैं.