आईपीएल-2020 हुए 15वें मुआबले में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए, कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम को 228 रन का विशाल लक्ष्य दिया था, लेकिन जबाव में कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम मात्र 210 रन ही बना सकी. जिसके बाद मैच को दिल्ली कैपिटल्स ने 18 रन से जीत लिया, लेकिन इस मैच के जीतने के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने इस खिलाड़ी को याद करते हुए ये बात कही.

श्रेयस अय्यर को मैन ऑफ़ द मैच

 

इस मैच को एक बड़े रोमांच के रूप में देखा गया. दरअसल इस मैच के दौरान आप कभी भी नहीं बता सकते थे कि मैच इस ओर पलट सकता है. क्योंकि जिस मैच में जो खिलाड़ी आ रहा था वो बड़े-बड़े शॉट खेलने का दमखम रखता था.

इसलिए इस मुकाबले में कोलकाता नाईट राइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स के ज्यादा तर खिलाड़ियों ने अच्छी बल्लेबाजी की. वही दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने इस मुकाबले में कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम को 18 रन से मात दी और अपने आईपीएल-2020 की तीसरी जीत हासिल की.

इस मैच में दिल्ली कैपिटल्स की टीम से पृथ्वी शॉ ने 41 गेंदों पर 66 रन बनाए, रिषभ पंत ने 17 गेंदों पर 38 रन बनाए और अपनी टीम को एक मजबूती दी. वहीं दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने 38 गेंदों पर 88 रनों की शानदार पारी खेली. जिसके बाद उन्हें मैन ऑफ़ द मैच के ख़िताब से नवाजा गया.

अय्यर ने मैच को बताया रोमांचक

आईपीएल-2020 का अभी तक का सबसे बड़ा स्कोर दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम के सामने रखा था. जिसमें केकेआर की टीम को 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा. जिसके बाद श्रेयस अय्यर ने दिल्ली कैपिटल्स की जीत के बाद ये कहा कि

“यहां बचाव करना वाकई मुश्किल है. यह एक ऐसा टूर्नामेंट रहा है, खासकर शारजाह में. इस मैदान पर खेलना हमेशा रोमांचिक होता है. पिछली बार जब मैंने यहा खेला था, तो मई कुछ खाश नहीं कर पाया था. यहा मैच हमारे लिए जीतना काफी आचा रहा है. मेरे लिए शुरुआत में मैदान में टिके रहना बहुत जरुरी था, जो मैंने पहले मैचों में किया था. यहा मेरे लिए सही समय था की मई गेंदबाजों के खिलाफ स्ट्राइक रोटेट करूं,सौभाग्य ये मेरे लिए कारगार रहा.”

अय्यर ने फिटनेस को दिया श्रेय

इस मुकाबले में 38 गेंदों पर 88 रनों की शानादार पारी खेलने वाले श्रेयस अय्यर ने कहा कि

“मैंने अपनी फिटनेस को बनाए रखने के लिए जिम सेशन में अपने जिम शास्त्रों के साथ काफी पसीना बहाया. तो मैं यहा नहीं कहूँगा कि मैं बहुत प्रतिभाशाली खिलाड़ी हूँ. जिस तहर से सबने अपना योगदान दिया, मै उन सभी से काफी खुश हूँ.” 

“मैच के दौरान अमित मिश्रा को खोना दुर्भाग्यपूर्ण था, जब वो अच्छी स्पिन गेंदबाजी की कर रहे थे. कुछ भी हो सकता है, यहा टी20 फॉर्मेट है और शारजाह में खेलना तो बहुत बड़ी बात है. हमारे पास वास्तव में एक अच्छा मंच है, हमे अपनी फिटनेस पर मेहनत करते रहना चाहिए.”