stephen fleming 1553271941

चेन्नई सुपर किंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग-2020 मैच में केदार जाधव को बल्लेबाजी के लिए महेंद्र सिंह धोनी से पहले भेजने के सवाल पर बुरी तरह से भड़क उठे चेन्नई ने यह मैच डेविड वार्नर की कप्तानी वाली सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 7 रन से हारा था. चेन्नई की यह लगातार तीसरी हार थी. आईपीएल-2020 के पॉइंट्स टेबल में सीएसके सबसे निचले यानी आठवें स्थान पर है.

सीएसके के कोच स्टीफ़न फ्लेमिंग क्यों हुए गुस्सा

817429 stephen fleming dhoni and jadeja

चेन्नई सुपर किंग्स को ख़राब  और पॉइंट्स टेबल में सबसे निचले पायदान पर रहने की वजह से काफी आलोचना भी सहनी पड़ रही हैं. ऐसे में जब मैच के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में फ्लेमिंग से केदार जाधव को धोनी से पहले भेजे जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने गुस्से में कहा कि

“यह कैसा सवाल है ? साथ ही उन्होंने कहा कि वह हमारे चौथे क्रम के बल्लेबाज हैं, धोनी आमतौर पर मध्यक्रम के निचले हिस्से के खिलाड़ी हैं. जाधव दोहरी भूमिका निभाने में सक्षम हैं. अगर हमें अच्छी शुरुआत मिलती है, तो धोनी पहले और जाधव बाद में आ सकते हैं.”

जाधव अभी तक लय में नहीं देखे गए फिर ये फैसला क्यों लिया गया

Kedar Jadhav

उन्होंने कहा कि

“अगर आप जल्दी विकेट गवां देते है तो आपका चौथे क्रम का बल्लेबाज मैदान में जाता है.”

जाधव अभी तक टूर्नामेंट में लय हासिल करने में विफल रहे हैं. उन्होंने इस मैच में भी 10 गेंद में सिर्फ तीन रन बनाए. कप्तान धोनी और रविंद्र जडेजा के बीच साझेदारी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि

“हम पारी की बीच में मुश्किल में थे. धोनी और जडेजा ने मैच में हमारी वापसी कराई, लेकिन टीम को बीच के ओवरों में अधिक रन बनाना होगा.”

मैच के दौरान इस टीम की हुई जीत

सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया. हैदराबाद ने जल्दी ही कम स्कोर पर अपने चार टॉप बल्लेबाजों के विकेट गवां दिए थे. इसके बाद प्रियम गर्ग और अभिषेक शर्मा ने हैदराबाद की पारी को सभालनते हुए टीम को 165 रनों का पीछा करते हुई  सीएसके 157 रन ही बना पाई और 7 रनों से हार गई. इस मैच के आखिरी ओवर में सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी काफी संघर्ष करते हुए नज़र आए. वही उनकी टीम आईपीएल-2020 में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने 4 मुकाबले खेलकर 1 में जीत हासिल की है. लेकिन उन्हें अपने 3 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है.