Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

देश के लिए खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है लेकिन किसी का सपना बहुत जल्द पूरा हो जाता है तो किसी को लम्बें समय तक प्रयास करते रहना होता है. देश को अच्छे युवा खिलाड़ी मिलते रहे और पूरे विश्व में जीत का परचम लहराता रहे.

इसको देखते हुए देश के अंदर 2008 में क्रिकेट की सबसे महंगी और सबसे बड़ी लीग की शुरुआत हुई, जिसको आज हम आईपीएल के नाम से जानते और यहा से कई बड़े और युवा ख़िलाड़ी मिले है जिन्होंने टीम इंडिया के कई फॉर्मेट में कप्तानी का भार संभाला. तो कई खिलाड़ी ऐसे भी है जिन्होंने क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग आईपीएल में कप्तानी कर टीम को जिताया और टीम के प्रदर्शन से प्रशंसकों का मन मोह लिया. लेकिन उन्हें नहीं मिला देश की टीम में खेलने का मौका.

आज हम इस लेख के जरिये ये जानेंगे की वो कौन से खिलाड़ी है जिन्होंने आईपीएल में कप्तानी की, लेकिन नहीं मिला टीम इंडिया में खेलने का मौका.

1. युवराज सिंह

देश के लिए खेलते हुए युवराज सिंह ने इंग्लैंड के खिलाफ 6 गेदों पर 6 छक्के लगा कर एक इतिहास रच दिया था. वो भारत के बहुत बड़े मैच विनर खिलाड़ी रहे हैं. जो अच्छे ऑलराउंडर की लिस्ट में शामिल होते हैं.

उसी तरह आईपीएल के पहले सीजन में युवराज सिंह किंग्स इलेवन पंजाब टीम के आइकॉन खिलाड़ी थे इसके अलावा उन्हें टीम का कप्तान बनाया गया था. युवी ने पूरे सीजन दमदार कप्तानी की थी, जिसके चलते उनकी टीम सेमीफाइनल तक का सफ़र तय करने में सक्षम रही.

इतना अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद युवराज सिंह को टीम इंडिया की कप्तानी करने का मौका नहीं मिला जबकि आईपीएल में उन्होंने 43 मैच खेले हैं जिसमें से 21 मैचों में उन्हें जीत मिली जबकि वहीं 21 मैचों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse