यूएई में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन का एक राउंड खत्म हो गया है. जिसमें सभी युवा और अनुभवी खिलाड़ियों ने अपना दमख़म दिखाते हुए सभी को काफी प्रभावित कर रहे है. उन्होंने बताया है कि बड़े और छोटे खिलाड़ी से कुछ नहीं होता, जब तक की आप के पास कला भंडार हो. इसी बीच आधे राउंड के पूरे के होने बाद विनोद कांबली ने अपने बेहतरीन 11 खिलाड़ियों का चुनाव किया है.

आधे राउंड के बाद किसने खेले-कितने मुकाबले

IPL 2020 | Check out the complete players list of all eight teams

आईपीएल-2020 के इस सीजन में सभी टीमों ने अभी तक अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश की है. वही सभी टीमें एक-दूसरे के साथ एक-एक मैच खेल चुकी. वही चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने अपने दूसरे राउंड का पहला मैच खेल लिया है.

लेकिन अभी भी बाकी की टीमों ने महज 7-7 मुकाबले खेले हैं. सात मुकाबले खेलने के बाद मुंबई इंडियंस की टीम पॉइंट्स टेबल पर पहले स्थान पर कायम है. वहीँ दूसरा स्थान दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने पाया है. इस सीजन दिल्ली की टीम कुछ अलग की माइंड सेट से दिख रही हैं.

हालांकि पहला राउंड महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम चेन्नई सुपर किंग्स के लिए कुछ खास नहीं रहा है. उन्होंने पिछले राउंड में 7 मुकाबले में खेलकर कर महज 2 में जीत हासिल की थी. वही उन्हें 5 में हार का सामना करना पड़ा था.

विनोद कांबली ने किसे किया अपनी प्लेइंग-11 में शामिल

पहले राउंड तक सभी खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर पूर्व भारतीय खिलाड़ी विनोद कांबली ने अपने बेस्ट प्लेइंग इलेवन खिलाड़ियों का चुनाव किया, मगर हैरानी वाली बात यह है कि इस लिस्ट में रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी जैसे दिग्गज नाम नहीं है.

यही नहीं कांबली ने खुद को कोच भी बताया. हालांकि उन्होंने यह मजाकिया लहजे में कहा. कांबली की बेस्ट इलेवन में इन खिलाड़ियों के नाम है-

डेविड वार्नर, केएल राहुल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, एबी डिविलियर्स, कीरोन पोलार्ड, राहुल तेवतिया, कगिसो राबाडा, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी, युजवेंद्र चहल

कांबली ने इंटरनेशनल क्रिकेट में खेले इतने मुकाबले

पूर्व भारतीय खिलाड़ी विनोद कांबली एक बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं. इन्हें किसी समय सचिन तेंदुलकर का अभूत करीबी दोस्त माना जाता था, लेकिन अब ऐसा कुछ भी नहीं है. इन्होने भारतीय टीम के लिए कुल 17 टेस्ट खेले, जिसमें उन्होंने 54.20 की औसत से 1,084 रन बनाए, वनडे में उन्होंने ने कुल 104 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 32.59 की औसत से 2,477 रन बनाए. इनका इंटरनेशनल करियर ज्यादा लंबा तो नहीं रहा, लेकिन जितना भी था उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से फैंस को काफी प्रभावित किया.