इंग्लैंड और वेल्स मे चल रहा है क्रिकेट का महायुद्ध, क्रिकेट को इस उची ख्याति तक पहुचाने का श्रेय खेल प्रशंषकों को जाता है, पर कभी कभी यह प्रशंषक क्रिकेटरों को परेशान कर लेते है और ऐसे में अगर किसी खिलाड़ी ने कोई कड़ी प्रतिक्रिया दे दी तो मानो उसकी शामत आ गई. अभी भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड मे विश्व कप खेल रही है और ऐसा ही  कुछ उसको भी सहना पड़ रहा है. इस वजह से ही वह आईसीसी की सुरक्षा व्यवस्था से खासा नाराज है.

आईसीसी के सुरक्षा नियम से भारतीय टीम है नाखुश

आईसीसी

सभी जानते हैं कि किसी भी टीम के प्रशंसक उनके उत्साहवर्धक होते हैं, ऐसे मे अगर आप दूसरी धरती पर खेल रहे हो तो ऐसे मे अपने समर्थकों का हुजूम हमे अच्छा प्रदर्शन दिखाने की प्रेरणा देता है.

जब भारत वेस्टइंडीज के खिलाफ मेनचेस्टर के मैदान पर खेल रही थी, तब ऐसा लग रहा था कि मानो वो मेनचेस्टर नहीं मुंबई हो. पर कभी कभी यह समर्थक ऐसे काम कर देते हैं, जिसकी वजह से टीम को दिक्कत होने लगती है, जब टीम के खिलाड़ी एकांत मे रहना चाहते है अपने खेल पर ध्यान देना चाहते है तब भी लोग उनको सेल्फी और ऑटोग्राफ के लिए परेशान करते हैं.

सूत्रों ने बताया है कि,

“आईसीसी नियमों के अनुसार, सुरक्षा को मजबूत करने की आवश्यकता है. टूर्नामेंट मे इतने प्रशंसकों की संख्या बढ़ जाती है कि उन पर लगाम कसने की जरुरत है नहीं तो वह मैदान के अलावा भारतीय टीम के होटल तक पहुँच जाते है.”

भारतीय टीम समझती है प्रशंसकों का जूनून

आईसीसी

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है की प्रशंसकों से टीम की कोई दुश्मनी हो आईएएनएस से बात करते हुए, एक खिलाड़ी ने आगे बताया हैं कि

“वे प्रशंसकों की उत्सुकता को समझते हैं कि उन्हें तस्वीरें क्लिक करना है या ऑटोग्राफ लेने का कितना उतावलापन होता है.”

उन्होंने बताया कि

“हम समझते हैं, कि जब हम किसी छोटे बच्चे को ऑटोग्राफ देने से मना कर देते हैं, तो उनको कैसा महसूस होता है. पर क्रिकेटर भी दिन मे थोड़ा ऐसा समय चाहते हैं, जब की वह एकांत मे अपने परिवार को समय दे रहे हों, प्रैक्टिस के दौरान हमको अपना ध्यान प्रैक्टिस केन्द्रित करना होता है, और मैच के लिए भी हमको शांति और सुकून की जरुरत होती है उर्जा पाने के लिए.”