EqH0RnjVoAAksYn
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी चार टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला मेलबर्न के मैदान पर खेला गया। इस मैच में भारतीय टीम ने अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर मुकाबले में शानदार जीत दर्ज की।

मैच में जीत के साथ ही भारतीय टीम ने अपने सीरीज जीतने की उम्मीदों को बरकरार रखा और चार मैचों की सीरीज को एक-एक से बराबरी कर ली। मैच के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के कई खिलाड़ी संकटमोचक की भूमिका निभाई, वही टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी काफी अच्छी कप्तानी की।

पहले टेस्ट मैच में बुरी तरह हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के लिए इस मैच में इतना शानदार प्रदर्शन करना इतना आसान नहीं था, लेकिन इसके बावजूद भारतीय टीम बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सीरीज में अपनी जीत की उम्मीदों को बरकरार रखा। इसी क्रम में हम बात करेंगे मैच में टीम इंडिया की जीत के 3 बड़े कारणों के बारे में जो अगर शायद नहीं होते तो टीम के लिए मैच में जीत हासिल करना इतना आसान नहीं होता।

अजिंक्य रहाणे की शानदार कप्तानी

28rahane bat raise

टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम की कमान कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे के कंधे पर थी। अजिंक्य रहाणे ने मैच में इतनी बेहतरीन कप्तानी की, उनके कप्तानी को देखकर लोग काफी प्रभावित हुए। उन्होंने गेंदबाजों का बदलाव काफी बेहतरीन किया।

वही उन्होंने रविचंद्रन अश्विन और जडेजा का इस्तेमाल काफी बेहतरीन तरीके से किया जो कि भारतीय टीम के लिए फायदेमंद साबित हुआ और टीम को उसका फायदा मिला जीत मिली। अजिंक्य रहाणे ने युवा खिलाड़ियों पर जिस तरह भरोसा जताया और सीनियर खिलाड़ियों को जिस तरह अपने साथ जोड़ कर मैदान पर फील्डिंग की वह टीम के लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse