मयंक अग्रवाल

साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय टेस्ट टीम में जगह बनाने वाले सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल चिंतामुक्त हैं। टीम का ऐलान होने के बाद से टेस्ट टीम में ओपनिंग जोड़ी को लेकर चर्चा हो रही है। लेकिन टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू ने मयंक ने साफ कर दिया है कि इस कॉम्पटीशन से उनपर जरा भी दबाव नहीं है।

ओपनिंग का नहीं है मुझपर दबाव: मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल ने टीम में हो रही उथल-पुथल को लेकर टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में कहा,

“मुझ पर दबाव नहीं है क्योंकि बात वो करने की है जो आपके नियंत्रण में हो। मैं इस तरह से चीजों को देखता हूं- आपको मैच मिला है, तो उस मौके को भुनाने के लिए मैदान पर जाएं और टीम को अच्छी स्थिति में लाने की कोशिश करें। अगर आपका दिन अच्छा है तो टीम के लिए मैच जीतने की कोशिश करें। बाकी सब अपने आप हो जाएगा।”

कप्तान कोहली से सीखा स्थिति को पढ़ना

मयंक से वेस्टइंडीज दौरे पर विराट कोहली के साथ मैदान पर बल्लेबाजी के एक्सपीरियंस के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा

“विराट लंच से आधा घंटा पहले बल्लेबाजी करने आया। सबसे पहले हमने साझेदारी आगे बढ़ाने की बात की। हमने कहा खतरा नहीं उठाते हैं, लंच तक दोनों छोर पकड़कर रखते हैं और फिर आगे आएंगे। इसलिए हम सावधानीपूर्वक खेल रहे थे। लंच के बाद विराट ने अचानक गति को बढ़ाया।

मैंने विराट की बल्लेबाजी से जो सीखा वो है गंभीरता और मानसिकता जिससे वो स्थिति को पढ़ता और समझता है। वो अपने साथ काफी ऊर्जा भी लाता है। वो ऐसा खिलाड़ी है जो आगे से नेतृत्व करता है।”

निराशाजनक रहा मयंक का वेस्टइंडीज दौरा

टेस्ट स्पेलिस्ट माने जाने वाले मयंक अग्रवाल का वेस्टइंडीज दौरा बेहद निराशाजनक रहा। केएल राहुल के साथ ओपनिंग जिम्मेदारी निभा रहे खिलाड़ी ने 4 पारियों में मात्र 80 रन ही जोड़े। इसके अलावा केएल राहुल ने भी 101 रन ही बनाए।

हालांकि टफ कॉल लेते हुए चयनकर्ताओं ने राहुल को टेस्ट टीम से ड्रॉप कर दिया और घरेलू क्रिकेट खेलने की बात कही। लेकिन मयंक अभी भी टीम में बरकरार हैं और अब साउथ अफ्रीका दौरे पर वह रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करते नजर आ सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *