Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

साउथ अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टेस्ट टीम का ऐलान हो गया। इस टीम को देखकर कुछ लोगों को खुशी हुई तो कुछ को टीम को देखकर ऐसा लगा कि इसमें कुछ खिलाड़ियों की जगह नहीं बनती।

असल में कुछ खिलाड़ी घरेलू स्तर पर लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर टीम इंडिया के दरवाजे पर दस्तक दे रहे हैं। हालांकि युवा खिलाड़ी शुभमन गिल को आखिरकार लंबे वक्त तक अच्छे प्रदर्शन के बाद टीम में एंट्री मिल गई। ये है इंडिया की टेस्ट टीम

विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, शुभमन गिल।

बेशत यह टीम बेहद मजबूत है लेकिन कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हैं जो इस टीम में शामिल होने के हकदार थे लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें नजरअंदाज कर दिया। तो आइए हम आपको बताते हैं उन खिलाड़ियों के बारे में जिन्हें चयनकर्ताओं ने किया नजरअंदाज…

1-अभिमन्यू ईश्वरन

अभिमन्यू ईश्वरन के घरेलू आंकड़े आकर्षक हैं लेकिन चयनकर्ता हैं कि उन्हें मौका देने का सोच ही नहीं रहे हैं। साथ ही अभी हाल ही में संपन्न हुई दलीप ट्रॉफी में भी इस खिलाड़ी का प्रदर्शन काबिल-ए-तारीफ रहा जिसके लिए फाइनल मैच में मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया।

ईश्वरन ने घरेलू स्तर पर हर वह कारनामा कर लिया है जिससे टीम इंडिया के दरवाजे उनके लिए खुल सकें। अभिमन्यू ईश्वरन ने अभी तक फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 90 पारियों में 49.59 के औसत से 13 शतक और 17 अर्धशतक की मदद से 4067 रन अपने नाम किए हैं।

वहीं चुनी हुई टीम में देखें तो मयंक अग्रवाल-रोहित शर्मा को बतौर ओपनर सिलेक्ट किया गया है। जबकि मयंक का वेस्टइंडीज दौरा न तो कुछ खास रहा और रोहित को मिडिल ऑर्डर से उठाकर ओपनिंग का मौका दिया जा रहा है।

ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि चयनकर्ताओं को 24 वर्षीय अभिमन्यू को टेस्ट टीम में शामिल कर आजमाना चाहिए था। लेकिन उन्होंने सीनियर खिलाड़ियों को प्राथमिकता देते हुए युवा प्रतिभा को नजरअंदाज कर दिया।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *