Oval-team india

भारतीय टीम (India team) और इंग्लैंड (England) के बीच जारी लॉर्ड्स टेस्ट (Lords test) मैच का दूसरा दिन खत्म हो चुका है. टीम इंडिया (Team India) के लिए मैच के दूसरे दिन की शुरूआत बेहद खराब रही. पहले दिन महज 3 विकेट के नुकसान पर 276 रन बनाने वाली टीम दूसरे दिन सिर्फ 92 रन ही बना सकी और 364 रन के स्कोर पर ऑलआउट हो गई. इसमें सबसे बड़ा योगदान केएल राहुल (129) और रोहित शर्मा (83) का रहा.

इन दोनों भारत की नींव पहले दिन बेहद मजबूत कर दी थी. ऐसे में दूसरे दिन टीम इस स्कोर को 400 के पार पहुंचा सकती थी. लेकिन, ऐसा हो नहीं सका. इस खास रिपोर्ट में हम उन तीन गलतियों के बारे में बात करने जा रहे हैं, जो टीम इंडिया से दूसरे दिन हुई.

दिन के पहले 2 ओवर में दिए 2 विकेट

India team

दूसरे दिन फैंस को केएल राहुल (KL Rahul) से दोहरे शतक की उम्मीद थी. लेकिन, क्रीज पर पूरी तरह से सेट हो चुके लोकेश दूसरे दिन सिर्फ 2 ही रन बना सके और ऑली रॉबिन्सन (Ollie Robinson) की गेंद पर सिबली को कैच दे बैठे. शुरूआती ओवर में लगे इस झटके के बाद मध्य क्रम की जिम्मेदारी अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane ) पर आ गई थी. लेकिन, इस मुकाबले में भी उन्होंने फैंस और मैनेजमेंट को निराश करने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

उनका जारी खराब फॉर्म इस बात की गवाही देता है, कि इस समय वो लय में नहीं हैं. राहुल के पवेलियन लौटने के बाद जेम्स एंडरसन (James Anderso) के अगले ही ओवर में रहाणे भी अपना विकेट गंवा बैठे. महज 1 रन पर जो रूट को कैच थमाकर वो भी आउट हो गए. इस बैक टू बैक लगे 2 झटके के बाद भारतीय टीम (India team) की पारी लड़खड़ा गई. यह भारत की दूसरे दिन सबसे बड़ी गलती थी.

निचले क्रम का नहीं मिला साथ

photo 2021 08 14 10 16 15

दूसरे दिन बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया के पास 8 विकेट बचे हुए थे. लेकिन, 2 विकेट गंवाने के बाद क्रीज पर ऋषभ पंत और रवींद्र जडेजा टिके हुए थे. जिनसे एक बड़ी और लंबी पारी की उम्मीद थी. हालांकि दोनों ने अच्छी शुरूआत की और पंत सिर्फ 37 रन बनाकर मार्क वुड की गेंद पर आउट हो गए. इसके बाद जडेजा क्रीज पर टिके हुए थे. लेकिन, उनका साथ पुछल्ले बल्लेबाज ज्यादा देर तक दे नहीं सके और वो भी मार्क वुड की गेंद पर जेम्स एंडरसन को कैच देकर (40 रन पर) आउट हो गए.

निचले क्रम से भारतीय टीम (India team) को जिस तरह की आशा थी. उसके मुताबिक पुछल्ले बल्लेबाज ज्यादा देर तक क्रीज पर खुद को जमा नहीं सके. नॉर्टिंघम में 37 रन की पारी खेलने वाले जसप्रीत बुमराह बिना खाता खोले एंडरसन का शिकार हुए. इशांत शर्मा भी सिर्फ 8 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. तो वहीं मोहम्मद शमी भी शून्य पर मोईन अली की गेंद पर रॉरी बर्न्स को कैच दे बैठे. यानी कि निचले क्रम में एक भी खिलाड़ी का साथ नहीं मिल सका जो भारत के लिए बल्ले से योगदान दे सकता. यह भारत की दूसरी बड़ी गलती थी.

गेंदबाजो ने उम्मीद के मुताबिक नहीं किया प्रर्दशन

photo 2021 08 14 10 15 02

तीसरी बड़ी गलती भारतीय गेंदबाजों से हुई. 364 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड टीम दूसरे सेशन के खत्म होने तक बिना किसी विकेट के नुकसान पर क्रीज पर टिकी रही. रॉरी बर्न्स और डोमिनिक सिबली ने मेजबान टीम की पारी की शुरूआत की. दोनों क्रीज पर काफी देर तक विकेट बचाए रहने में सफल रहे. जबकि टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उम्मीद के मुताबिक गेंदबाजी करने में कुछ खास सफल नहीं हुए.

दूसरे दिन के खेल के तीसरे सेशन में गेंदबाजी करने उतरी टीम इंडिया की ओर से पहली सफलता मोहम्मद सिराज को मिली. उन्होंने डोमिनिक को 11 रन पर केएल राहुल के हाथ कैच थमाकर पवेलियन भेजा. इसके बाद उसी ओवर में उन्होंने हसीब हमीद को डक आउट किया. तीसरी सफलता भारतीय टीम (India team) को काफी देर बाद मिली और रॉरी (49) का शिकार शमी ने किया. जबकि पहले मैच में 9 विकेट लेकर छाए बुमराह और ईशांत के हाथ एक भी विकेट नहीं लगा. कुल मिलाकर उम्मीद पर दूसरे दिन भारतीय गेंदबाज खरे नहीं उतर सके.