चेन्नई और कोलकाता एकदिवसीय जीतने के बाद मेजबान भारतीय टीम के हौसले एकदम बुलंद दिखाई दे रहे हैं. भारतीय टीम का प्रदर्शन भी तक काफी जोरदार और लाजवाब रहा हैं. चेन्नई वनडे जहाँ टीम इंडिया 26 रनों से जीतने में सफल रही, तो कोलकाता में विराट एंड कंपनी ने 50 रनों से मुकाबला जीतकर अपना परचम लहराया.

दोनों टीमों के बीच पेटीएम श्रृंखला का तीसरा मुकाबला इंदौर के होलकर, स्टेडियम में खेला जायेंगा. दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला रविवार, 24 सितम्बर को खेला जायेंगा. जहाँ टीम इंडिया श्रृंखला जीतने के नेक इरादों से मैदान पर उतरेगी. इस लेख के माध्यम से हम आपको बतायेंगे, कि कोहली की 11 संभावित खिलाड़ियों के साथ इंदौर में ऑस्ट्रेलिया की टीम का सामना करने के लिए मैदान पर उतर सकते हैं.

आइये डालते हैं, एक नजर टीम इंडिया की संभावित प्लेयिंग XI पर:

~ रोहित शर्मा 

इंदौर में भारतीय टीम को अगर श्रृंखला जीतकर अपने नाम करनी हैं, तो टीम के उपकप्तान और रोहित शर्मा को जरुर अच्छा प्रदर्शन करना पड़ेंगा. रोहित शर्मा का प्रदर्शन अभी तक शुरूआती मुकाबलों में कुछ ख़ास नही रहा हैं और उनके बल्ले से सिर्फ 35 रन ही निकल सके है. इंदौर में जरुर अपनी खोई हुई लय हासिल करने के इरादे से मैदान पर उतरेंगे.

~ अजिंक्य रहाणे 

रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी अजिंक्य रहाणे के कंधो पर रहेंगी. चेन्नई में फ्लॉप होने के बाद, कोलकाता में रहाणे ने अपनी फॉर्म का शानदार परिचय दिया. अजिंक्य अभी तक इस सीरीज में 60 रन बना चुके हैं.

~ विराट कोहली {कप्तान}

 

इंदौर में बल्लेबाजी का सबसे बड़ा जिम्मा टीम के कप्तान विराट कोहली के जोशीले कंधो और रहेंगा. कोलकाता वनडे मैच में कोहली ने विराट 92 रनों की पारी खेलकर एक बार फिर से अपनी बेमिसाल फॉर्म का जीता जागता नमूना पेश किया. कोहली की कप्तानी भी अभी तक देखने लायक रही हैं. तीसरे मैच में कोहली जरुर श्रृंखला सील करने का इरादे से मैदान पर उतरेंगे.

~ के एल राहुल 

तीसरे एकदिवसीय में टीम इंडिया में एक बड़ा परिवर्तन देखने को मिल सकता हैं. दरअसल टीम में युवा बल्लेबाज के एल राहुल की अंतिम एकादश में वापसी हो सकती हैं. के एल को पिछले दो मैचों में नाकाम रहे मनीष पांडये के स्थान पर टीम में मौका दिया जा सकता हैं. लोकेश राहुल का प्रदर्शन श्रीलंका में एकदम खराब रहा था, ऐसे में इंदौर में उनके पास एक बड़ा मौका रहेंगा.

~ केदार जाधव 

केदार जाधव के ऊपर मध्यक्रम में बल्लेबाजी को मजबूती प्रदान करने का कार्यभार रहेगा. केदार जाधव को अभी तक शुरूआती दोनों मुकाबलों में एक अच्छा स्टार्ट मिला हैं, लेकिन उस वह एक बड़े स्कोर में तब्दील करने में एकदम असफल रहे हैं. इंदौर में जरुर जाधव अपनी मौजूदगी दर्ज कराना चाहेंगे.

~ एमएस धोनी {विकेटकीपर}

विकेटकीपिंग का सबसे अहम जिम्मा अनुभवी और टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की अदा करते हुए दिखाई देंगे. महेंद्र सिंह धोनी इस समय अपने करियर की सबसे शानदार फॉर्म से गुजर रहे हैं. स्टंप्स के आगे और स्टंप्स के पीछे हर जगह धोनी अपने खेल से टीम की जीत में अपना शत प्रतिशत योगदान दे रहे हैं. आने वाले मैचों में भी एमएस डी से ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद रहेंगी.

~ हार्दिक पंड्या 

ऑल राउंडर हार्दिक पंड्या भी इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेलते हुए नजर आयेंगे. हार्दिक पंड्या अभी तक मौजूदा श्रृंखला के सबसे चर्चित खिलाड़ी रहे हैं. इस सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी उन्हें के नाम पर दर्ज हैं. हार्दिक अभी तक दो मैचों में 103 रन बना चुके हैं. बल्ले से नहीं, बल्कि गेंद से भी पंड्या सामने वाली टीम पर एकदम इक्कीस साबित हो रहे हैं. हार्दिक पंड्या अभी तक कुल चार विकेट ले चुके हैं.

~ भुवनेश्वर कुमार 

तेज गेंदबाजी का कार्यभार अद्दभुत फॉर्म में चल रहे भुवनेश्वर कुमार के कंधो पर रहेंगा. भुवि अभी तक सीरीज में चार विकेट ले चुके हैं. इतना ही नहीं, पेटीएम सीरीज में सबसे बढ़िया इकॉनमी रेट भुवि का ही रहा हैं. उनकी स्विंग करती गेंदे को लगातार खर बरपा रही हैं. इंदौर में मेहमान टीम के लिए भुवि से पार पाना आसान नहीं रहेंगा.

~ जसप्रीत बुमराह 

इंदौर में भुवनेश्वर के साथ साथ तेज गेंदबाजी का जिम्मा उभरते हुए योर्कर किंग जसप्रीत बुमराह के कन्धों पर रहेंगा. भले ही बुमराह शुरुआती दो मैचों में केवल एक ही विकेट ले सके हो, लेकिन कसी हुई गेंदबाजी देखने लायक रही हैं.

~ युजवेंद्र चहल 

तेज गेंदबाजी के बाद अब बात आती हैं, स्पिन गेंदबाजी की. स्पिन गेंदबाजी का डिपार्टमेंट युजवेंद्र चहल संभालते हुए दिखाई देगे. युजवेंद्र अभी तक पांच विकेट ले चुके हैं और उनका प्रदर्शन भी अच्छा रहा हैं. जाहिर सी बात हैं, कोहली उनको अंतिम एकादश से बाहर करने की भूल नहीं करेंगे.

~ कुलदीप यादव 

मौजूदा समय में अगर कोई नाम क्रिकेट के बाजार में सबसे ज्यादा चर्चा में हैं, तो वह और नहीं बल्कि युवा चाइनामैन स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव का हैं. कोलकाता के हैट्रिक लेने के साथ ही कुलदीप रातोंरात स्टार बनकर सामने आये. तीसरे मैच में भी उनके कन्धों पर दमदार प्रदर्शन की जिम्मेदारी रहेंगी.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *