भारतीय टीम-ब्रिस्बेन टेस्ट

आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला 18 से 22 जून को खेला जाएगा। जिसके लिए न्यूजीलैंड ने फाइनल में जगह बना ली है और अब तीन टीमें फाइनल में पहुंचने की दावेदारी पेश करती नजर आ रही हैं। टीम इंडिया, इंग्लैंड क्रिकेट टीम और ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम। तो आइए इस आर्टिकल में आपको बताते हैं कि कौन सी टीम किस प्रकार आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश कर सकती है।

भारत के लिए आसान है फाइनल की राह

टेस्ट चैंपियनशिप

भारतीय क्रिकेट टीम आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट्स टेबल में नंबर-1 पर काबिज है। टीम के पास 430 अंक है। अब यदि भारत को टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनानी है तो उसे इंग्लैंड के साथ खेली जाने वाली चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1, 2-0, 3-1, 3-0 और 4-0 से हराना होगा। तभी भारतीय टीम टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में अपना स्थान पक्का कर सकेगी।

इंग्लैंड क्रिकेट टीम को देनी होगी भारत को मात

इंग्लैंड क्रिकेट टीम इस वक्त भारत दौरे पर है। इस दौरे पर यदि इंग्लैंड की टीम भारत को 3-1, 3-0 या 4-0 से हराने में कामयाब होती है, तो वह फाइनल में एंट्री कर लेगी। लेकिन इस बात में कोई शक नहीं है कि इंग्लैंड के लिए भारतीय सरजमीं पर मेजबान टीम को हराना आसान नहीं होने वाला है। ऐसे में इंग्लैंड को टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह पक्की करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देना होगा। इस बात को टीम के कप्तान जो रूट, कोच क्रिस सिल्वरवुड व अन्य खिलाड़ी भी स्वीकार चुके हैं।

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम है भारत-इंग्लैंड के रिजल्ट पर निर्भर

टेस्ट चैंपियनशिप

भारत के हाथों घरेलू सरजमीं पर मिली करारी हार के बावजूद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम अभी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की दौड़ में बनी हुई है। मगर अब ऑस्ट्रेलिया के हाथ में कोई मुकाबला नहीं है।

दरअसल, भारत और इंग्लैंड की सीरीज अगर 2-2, 1-1 या 0-0 से ड्रॉ हो जाती है, तो ऑस्ट्रेलिया फाइनल में प्रवेश कर सकती है। वहीं अगर इंग्लैंड भारत को 0-1,0-2 या 1-2 से भी हरा देता है तो, कंगारू टीम फाइनल में पहुंच जाएगी। भारत 1-0 से भी सीरीज जीत जाता है तो ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगा। वरना ऑस्ट्रेलिया को फाइनल में जगह नहीं बना सकेगी।