Team India

IND vs ZIM: आईपीएल 2022 पूरा होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम लगातार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलती हुई नज़र आ रही है. हाल ही में टीम इंडिया वेस्टइंडीज़ के दौरे से लौटी है. जहां पर भारतीय टीम तो अपार सफलता भी हासिल हुई है. इसी कामयाबी के बाद अब जल्द ही टीम इंडिया 3 मैचों की वनडे श्रृंखला के लिए ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए रवाना होगी. जिसका आगाज़ 18 अगस्त से होगा.

इस सीरीज़ (IND VS Zim) के लिए कई सीनियर खिलाड़ियों को रेस्ट देते हुए हाल ही में बीसीसीआई ने 16 सदस्यीय टीम का ऐलान किया था. जिसकी कमान शिखर धवन के हाथों में सौंपी गई थी. लेकिन, अब बीसीसीआई चयनकर्ताओं ने अपने इस फैसले में बड़ा बदलाव करते हुए गब्बर से कप्तानी छीनकर केएल राहुल के हाथों में दे दी है. वहीं धवन को इस दौरे के लिए उप-कप्तानी की कमान दी गई है. हम अपनी इस रिपोर्ट में बीसीसीआई के उस निर्णय के बारे में बात करने जा रहे हैं जो टीम पर पड़ सकता है और टीम इंडिया सीरीज गंवा सकती है.

IND vs ZIM: ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को बनाया गया कप्तान

KL Rahul-IND vs ZIM

आपको बता दें कि भारतीय टीम के प्रतिभाशाली बल्लेबाज़ केएल राहुल चोटिल होने के चलते काफी महीनों से क्रिकेट से दूरी बनाए हुए थे. हालांकि ज़िम्बाब्वे सीरीज़ (IND vs ZIM) के शुरू होने से पहले ही केएल राहुल बिलकुल फिट हो गए हैं. ऐसे में अब ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए उन्हें भी 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है.

dolon

इतना ही नहीं भारतीय टीम के दल में उनकी वापसी कराते हुए उन्हें कप्तानी भी सौंप दी गई है. ग़ौरतलब है कि भारत के लिए इस सीरीज़ के नियमित कप्तान शिखर धवन अब इस दौरे पर उपकप्तानी की भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे. लेकिन, केएल को कप्तानी की जिम्मेदारी देने का निर्णय बीसीसीआई के लिए घातक साबित हो सकता है. यहां तक कि टीम सीरीज़ (IND vs ZIM) भी गंवा सकती है. ऐसा हम नहीं बल्कि आंकड़े कहते हैं.

राहुल की कप्तानी में डूब सकती है टीम इंडिया की नैया

KL Rahul

केएल राहुल का एकदिवसीयय प्रारूप में कप्तानी रिकॉर्ड अब तक काफी ज़्यादा निराशाजनक रहा है. उन्होंने पहली बार वनडे में भारत के लिए कप्तानी इसी साल जनवरी में की थी. दरअसल, टीम के नियमित कप्तान रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गई 3 मैचों की वनडे सीरीज़ में राहुल को कप्तान बनाया गया था.

लेकिन, इस सीरीज में टीम इंडिया का अफ्रीकी दौरे पर जैसा हस्र हुआ उसे तो खुद भारतीय टीम भी नहीं याद रखना चाहेगी. दक्षिण अफ्रीका ने अपनी घरेलू ज़मीन पर भारत को इस सीरीज़ में 3-0 से करारी शिकस्त दी थी. यानी क्रिकेट की भाषा में कहें तो भारत को पूरी तरह से “व्हाइटवॉश” कर दिया गया था.

बीसीसीआई का अपना ही दांव टीम इंडिया के लिए बन सकता है घातक

KL Rahul

राहुल की अगुवाई में टीम एक भी मैच जीतने में सफल नहीं हो पाई थी. जोकि काफी निराशाजनक और शर्मनाक था. इसी के साथ राहुल को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खेली गई 3 मैचों की टेस्ट सीरीज़ के दूसरे मैच में भी टीम का कप्तान बनाया गया था. हालांकि उस मैच में भी टीम इंडिया के हाथ सिर्फ निराशा ही लगी थी.

इतना ही नहीं केएल काफी समय से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से बाहर चल रहे हैं और इंजरी इसकी बड़ी वजह रही है. इसके बावजूद वापसी के साथ ही उन्हें टीम की कमान सौंप (IND Vs ZIM) देना बीसीसीआई चयनकर्ताओं का ये फैसला टीम इंडिया के लिए खतरा बन सकता है.

शिखर धवन हैं बेहतर कप्तान

Shikhar Dhawan

भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन का वनडे क्रिकेट में कप्तानी रिकॉर्ड गज़ब का रहा है. जब-जब गब्बर एकदिवसीय में भारतीय टीम के कप्तान बने हैं तब-तब उन्होंने टीम को जीत दिलवाई है. पिछले साल श्रीलंका में खेली 3 मैचों की वनडे सीरीज़ में शिखर धवन को टीम इंडिया के कप्तान के रूप में चुना गया था. जिसमें भारत ने 2-1 से श्रीलंका को मात दी थी. वहीं हाल ही में वेस्टइंडीज़ में खेली गई 3 मैचों की वनडे श्रृंखला में भी गब्बर ही कप्तान थे.

जिसमें टीम इंडिया का प्रदर्शन सांतवे आसमान पर रहा था और उन्होंने कैरेबियाई टीम को इस सीरीज़ में पूरी तरह से पछाड़ा था. भारत ने वेस्टइंडीज़ को 3-0 से करारी शिकस्त देकर सीरीज़ पर कब्ज़ा किया था. बहरहाल, आंकड़ों के आधार पर देखा जाए तो इस बात में कोई दोराय नहीं कि शिखर वनडे में राहुल से बेहतर कप्तानी का विकल्प हैं.